UP में ट्रैक्टर-ट्रॉली की सवारी पर बैन, कानपुर हादसे के बाद योगी का एक्शन

कानपुर के घाटमपुर में ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटने से हुए हादसे के बाद मृतकों के परिजनों की चीख-पुकार सुनकर योगी सरकार जागी है. योगी सरकार ने हादसे से सबक लेते हुए बड़ा फैसला लिया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है कि अब से प्रदेश के किसी भी जिले में ट्रैक्टर-ट्रॉली पर यात्रियों को न ले जाया जाए. ट्रैक्टर-ट्रॉली का इस्तेमाल केवल सामान लाने ले जाने के लिए हो. इस आदेश का उल्लंघन करने वालों पर कड़ी कार्रवाई के भी निर्देश दिए गए हैं. सीएम योगी ने कहा कि अगर कोई ऐसा करता पाया जाए तो प्रशासन उस पर कड़ी कार्रवाई करे.
बता दें, शनिवार रात साढ़ थाना क्षेत्र में गंभीरपुर गांव के पास श्रद्धालुओं से भरी एक ट्रैक्टर-ट्रॉली अनियंत्रित होकर सड़क किनारे तालाब में पलट गई. हादसे में अब तक 27 श्रद्धालुओं की मौत हो चुकी है, जबकि 20 से ज्यादा श्रद्धालु घायल बताए जा रहे हैं. ये सभी घाटमपुर तहसील क्षेत्र के कोरथा गांव के रहने वाले थे. गांव के ही एक व्यक्ति के बच्चे के मुंडन संस्कार में शामिल होने फतेहपुर जिले में स्थित चंद्रिका देवी मंदिर गए थे. वहां मुंडन संस्कार खत्म होने के बाद ट्रैक्टर-ट्रॉली पर सवार होकर वापस गांव लौट रहे थे, तभी हादसे का शिकार हो गए.
दर्दनाक हादसे पर CM योगी ने जताया दुख
वहीं घटना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दुख जताया है. उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “जनपद कानपुर में हुई सड़क दुर्घटना अत्यंत हृदय विदारक है. जिलाधिकारी एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंचकर युद्ध स्तर पर राहत व बचाव कार्य संचालित करने तथा घायलों के समुचित उपचार की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए हैं. घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना है.”
घटनास्थल पर रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही पुलिस
घटनास्थल पर पुलिस-प्रशासन के आला अधिकारी मौजूद हैं. आसपास के थानों की पुलिस फोर्स मौके पर रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही है. स्थानीय लोग भी घायलों को तालाब से बाहर निकालने में प्रशासन की मदद कर रहे हैं. एंबुलेंस की मदद से गंभीर रूप से घायलों को कानपुर के हैलट अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जबकि जो लोग मालूमी रूप से घायल हैं, उनका पास के ही सीएचसी में इलाज चल रहा है. सीएम योगी ने कहा कि घायलों के इलाज में किसी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए. घायलों का बेहतर इलाज किया जाए.