पहली को तलाक देकर तुम्हारे साथ रहूंगा… वादे से मुकरा 5 बच्चों का पिता, दूसरी पत्नी पहुंची थाने

मध्य प्रदेश के इंदौर जिले से महिला को प्रताड़ति करने और दहेज उत्पीड़न का मामला सामने आया है. पूरा मामला इंदौर के महिला थाने से संबंधित है. महिला थाने पर एक पीड़िता पहुंची और पूरे मामले में अपने पति के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज करवाया है. पीड़िता ने पुलिस को बताया कि उसकी शादी 5- दिसंबर- 2008 को उज्जैन में रहने वाले लालू नाथ योगी से हुई थी. शादी के बाद थोड़े दिन तो सब कुछ ठीक-ठाक चलता रहा, लेकिन शादी के बाद पति लालू नाथ योगी पीड़िता को उसके घर ना ले जाते हुए किराए के कमरे में ले गया. वहीं पर किराए का कमरा लेकर रहने लगा. इसी बीच, पीड़िता ने पति से उसके माता-पिता से मिलवाने पर जोर देने लगी. इस पर लालू नाथ योगी जल्दी मिलवाने की बात कहकर बात को टाल देता था.
वहीं, अब पीड़िता ने पुलिस को बताया कि लालू नाथ योगी से उसने विवाह महाकाल मंदिर में हिंदू रीति रिवाज के मुताबिक किया था. शादी के बाद थोड़े दिन तो सब कुछ ठीक-ठाक चलता रहा, कुछ दिन बाद इस बात की जानकारी लगी कि लालू नाथ योगी पहले से शादीशुदा है. उसके 5 बच्चे भी हैं. जब पीड़िता को पति की पहली शादी और 5 बच्चों की जानकारी लगी उस समय पीड़िता गर्भवती हो गई थी. कुछ दिनों बाद पीड़िता ने एक बच्ची को जन्म दिया. तब उसने कहा कि वह पहली पत्नी को तलाक दे देगा मेरे साथ ही रहेगा.
मायके से 10 लाख मंगाने का बना रहा था दबाव
इसके बाद भी पीड़िता ने जब पति से माता-पिता से मिलवाने की बात कही तो वह उसे मारने लगा. साथ ही पति ने कहा कि मैंने सोचा था तुम बेटे को जन्म देगी लेकिन तुमने एक बेटी को जन्म दिया है. यदि मेरे साथ रहना है तो तुम अपने घर से 10 लाख लेकर आओ नहीं तो मेरे घर से निकल जाओ.
इसके बाद कुछ दिनों तक तो पीड़िता ने अपने पति को समझाकर एक बार फिर से घर बसा लिया, लेकिन आए दिन छोटी-छोटी बातों को लेकर पति लालू नाथ योगी मारपीट करने लगा था. इन्हीं सब बातों से परेशान होकर पीड़िता को एक दिन पति ने अपने घर से निकाल दिया. इसके बाद पीड़िता अपनी छोटी बच्ची को लेकर महाराष्ट्र चली गई.
पुलिस ने दहेड उत्पीड़न का मामला किया दर्ज
पीड़िता को लगा कि उसका पति लालू नाथ योगी उसे जल्द ही लेने आएगा, लेकिन काफी समय बीत जाने के बाद भी जब पति नहीं आया तो पीड़िता ने महाराष्ट्र से वापस लौटकर इंदौर के महिला थाने पर पूरे मामले में शिकायत दर्ज करवा दी. लालू नाथ योगी एक पार्टी से जुड़ा हुआ था, जिसके कारण पीड़िता की किसी तरह की कोई सुनवाई नहीं हो रही थी. पीड़िता ने पूरे मामले की शिकायत पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को दी. उसके बाद पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने उज्जैन में रहने वाले लालू नाथ योगी के खिलाफ दहेज उत्पीड़न सहित विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज कर पूरे मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है.