शीत लहर में टी-शर्ट पहने क्यों घूम रहे राहुल गांधी? फिटनेस है राज या मैसेज सियासी है

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी दो दिन पहले ‘भारत जोड़ो यात्रा’ लेकर दिल्ली पहुंचे तो अपनी मां सोनिया गांधी से मिले। मुलाकात की कई तस्वीरें सामने आईं, जिसमें एक मां का अपने बेटे के लिए स्नेह देखा गया, लेकिन एक फोटो ऐसी थी जिस पर सबकी नजरें रुक गईं। यह तस्वीर ही कुछ ऐसी थी जिसकी चर्चा पूरे देश में पक्ष-विपक्ष में हो रही है। शायद आप समझ गए हों। टी-शर्ट… कड़ाके की सर्दी में राहुल गांधी (52) सिर्फ टीशर्ट में घूम रहे हैं। इस तस्वीर को देखने से ऐसा लगा जैसे सोनिया गांधी आश्चर्य व्यक्त करते हुए अपने बेटे की तरफ हाथ से इशारा करते हुए कह रही हों कि केवल टी-शर्ट पहने हो?

सोमवार की सुबह दिल्ली में तापमान 3-4 डिग्री सेल्सियस पर आ गया था। गलन इतनी थी कि लोग कांप रहे थे लेकिन राहुल गांधी सफेद रंग की टी-शर्ट पहने देश के दिग्गज नेताओं की समाधियों पर श्रद्धांजलि अर्पित करने पहुंचे थे।

राहुल को टी-शर्ट में देखकर सोशल मीडिया पर चर्चा तेज हो गई है कि आखिर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष को सर्दी क्यों नहीं लगती? कांग्रेस समर्थक ट्विटर यूजर तो भारत जोड़ो यात्रा को ‘तपस्या’ और राहुल को तपस्वी साबित कर रहे हैं। उनका कहना है कि शानदार फिटनेस के चलते दिल्ली की कड़ाके की सर्दी भी राहुल गांधी पर बेअसर हो गई है।

मंजीत नाम के एक ट्विटर यूजर ने कहा, ‘जो तपस्या करते हैं, उनको सर्दी-गर्मी का अहसास नहीं होता… तपस्वियों को सिर्फ उनका तप याद रहता है…राहुल गांधी भी अपनी तपस्या कर रहे हैं… तप का तेज अलग होता है।’

टी-शर्ट में छिपा है राजनीतिक संदेश

वैसे, राजनीतिक विशेषज्ञों का मानना है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष टी-शर्ट के जरिए कहीं न कहीं आम लोगों से जुड़े होने का राजनीतिक संदेश दे रहे हैं। ‘सेंटर फॉर द स्टडी ऑफ डेवलपिंग सोसाइटीज (CSDS)’ के शोध कार्यक्रम ‘लोकनीति’ के सह-निदेशक संजय कुमार ने कहा, ‘सर्दी में राहुल गांधी के टी-शर्ट पहनने में मैं यह राजनीतिक संदेश देख पा रहा हूं कि वह आम लोगों से खुद को जुड़ा हुआ दिखा रहे हैं। यह संदेश देने की कोशिश कर रहे हैं कि वह गरीबों और आम लोगों की तरह कपड़े पहनते हैं।’

उन्होंने कहा, ‘उनकी पूरी यात्रा कहीं न कहीं राहुल गांधी के ‘इमेज मेकओवर’ में सहायक नजर आ रही है। उनका सर्दी में सिर्फ टी-शर्ट और पैंट पहनना भी इसी प्रयास का हिस्सा नजर आता है।’ इस बीच, कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने ट्वीट किया, ‘6 डिग्री (सेल्सियस) में कोई सिर्फ़ टी-शर्ट में कैसे रह सकता है? इस कदर का आत्म नियंत्रण, आत्मबल तपस्वियों का ही होता है।’

ट्विटर पर एक यूजर लक्ष्मण लिखते हैं, ‘राहुल गांधी की ऊर्जा का राज क्या है, उनका फिटनेस लेवल… वह उत्तर भारत की कड़कड़ाती सर्दी में सिर्फ टी-शर्ट पहनकर चल रहे हैं। ईश्वर, उन्हें भारत का नेतृत्व करने के लिए अच्छा स्वास्थ्य दें।’

सर्दी में राहुल गांधी के इस टी-शर्ट वाले अवतार बारे में पूछे जाने पर कांग्रेस के एक नेता ने कहा, ‘नेताओं ने हमेशा से समाज में जिस वेशभूषा का चलन था, उसी को धारण किया। आज के समय के लोग खासकर युवा आमतौर पर कुर्ता-पायजामा या धोती-कुर्ता धारण नहीं कर रहे हैं। राहुल का टी-शर्ट पहनना कहीं न कहीं आज आम युवा से खुद को जोड़ने का प्रयास है।’ 7 सितंबर को कन्याकुमारी से ‘भारत जोड़ो यात्रा’ पर निकले राहुल गांधी ने अब तक 108 दिनों की यात्रा में सिर्फ पैंट और टी-शर्ट पहनी है।