उमेश पाल शूट आउट में मिलती-जुलती कार का क्या है तिलिस्म? जांच में हुए खुलासे ने खोला राज!

शिवपूजन सिंह, प्रयागराज: प्रयागराज में बहुचर्चित उमेश पाल हत्याकांड () में हमलावरों ने उमेश पाल की कार की मिलती-जुलती मिलती-जुलती कार का इस्तेमाल एक इत्तेफाक नहीं था। बल्कि एक सोची-समझी साजिश का हिस्सा था। भले ही पुलिस व फ़ॉरेंसिक टीम इन कड़ियों को जोड़कर आगे बढ़ रही हो, लेकिन पहली नजर में यह बात साफ हो गयी है कि मैचिंग कार का मामला बेहद पेचीदा है।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उमेश पाल की सफेद कलर की क्रेटा कार व हमलावर की उसी तरह की कार व उस क्रेटा कार से जुड़े लोगों से बेहद चौकाने वाले सबूत मिले हैं। क्या था हमलावर की कार का असली नम्बर27 फरवरी को नेहरू पार्क के जंगल में उमेश पाल हत्याकांड में हमलावर क्रेटा कार के ड्राइवर अरबाज़ पुत्र आफाक निवासी सल्लाहपुर पुरामुफ्ती को एसओजी व धूमनगंज पुलिस की संयुक्त टीम ने एनकाउंटर किया। तलाशी के दौरान अरबाज के पास कार की एक आरसी व इंश्योरेंस का कागज मिला, पुलिस ने जब इस आधार पर जांच आगे बढ़ाई तो पता चला कि यह आरसी हमलावर की क्रेटा कार का असली रजिस्ट्रेशन नम्बर UP70 EC 9006 है। नम्बर प्लेट में लगा था डबल साइडर टेपउमेश पाल हत्याकांड में हमलावर क्रेटा कार की आगे की नंबर प्लेट पर डबल साइडर टेप लगा हुआ है। टेप से फिक्सिंग होने के कारण जरूरत के मुताबिक सेकंडों में नम्बर प्लेट को बदला, निकाला जा सकता है। हमले के दिन भी यही हुआ होगा।क्यों इस्तेमाल हुई मैचिंग कार24 फरवरी शाम 4 बजे के आसपास जब उमेश पाल एमपी एमएलए कोर्ट से निकल कर अपने घर सुलेम सराय की तरफ पड़े तो हमलावरों ने भी उमेश पाल की कार की तरह क्रेटा कार से पीछा किया। जिससे उमेश पाल व उनके ड्राइवर व गनर को शक न हो और दूसरे लोग यही समझें कि सेम गाड़ी उमेश पाल के लोगों की ही होगी।