‘जननायक’ कर्पूरी ठाकुर को भारत रत्न तो क्या बोले नीतीश, लालू, तेजस्वी और तेज प्रताप

पटना : बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और दिग्गज समाजवादी नेता कर्पूरी ठाकुर को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ देने का ऐलान किया है। कर्पूरी ठाकुर बिहार की राजनीति के वास्तविक ‘जन नायक’ रहे हैं, जिनकी विरासत पर विचारधाराओं से परे सभी पार्टियां दावा करती रही हैं। केंद्र की ओर से कर्पूरी ठाकुर को ‘भारत रत्न’ देने की घोषणा के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी। बिहार के मुख्यमंत्री ने भी आभार जताया है। कर्पूरी ठाकुर की 100वीं जयंती से एक दिन पहले उन्हें ‘भारत रत्न’ देने का ऐलान हुआ। आइये जानते हैं कर्पूरी ठाकुर को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान मिलने पर सीएम नीतीश कुमार, आरजेडी सुप्रीमो और ने क्या कहा।नीतीश बोले- केंद्र का अच्छा निर्णयकर्पूरी ठाकुर को ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किए जाने पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट किया। उन्होंने लिखा- ‘पूर्व मुख्यमंत्री और महान समाजवादी नेता स्व. कर्पूरी ठाकुर जी को देश का सर्वोच्च सम्मान ‘भारत रत्न’ दिया जाना हार्दिक प्रसन्नता का विषय है। केंद्र सरकार का यह अच्छा निर्णय है। स्व. कर्पूरी ठाकुर जी को उनकी 100वीं जयंती पर दिया जाने वाला यह सर्वोच्च सम्मान दलितों, वंचितों और उपेक्षित तबकों के बीच सकारात्मक भाव पैदा करेगा। हम हमेशा से ही स्व. कर्पूरी ठाकुर जी को ‘भारत रत्न’ देने की मांग करते रहे हैं। वर्षों की पुरानी मांग आज पूरी हुई है। इसके लिए माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी को धन्यवाद।’लालू ने किया जातीय जनगणना का जिक्रलालू यादव ने ‘एक्स’ पर लिखे पोस्ट में कहा- मेरे राजनीतिक और वैचारिक गुरु स्व. कर्पूरी ठाकुर जी को भारत रत्न अब से बहुत पहले मिलना चाहिए था। हमने सदन से लेकर सड़क तक ये आवाज उठायी लेकिन केंद्र सरकार तब जागी जब सामाजिक सरोकार की मौजूदा बिहार सरकार ने जातिगत जनगणना करवाई और आरक्षण का दायरा बहुजन हितार्थ बढ़ाया। डर ही सही राजनीति को दलित बहुजन सरोकार पर आना ही होगा।’तेजस्वी ने वीडियो शेयर रखी अपनी बातकर्पूरी ठाकुर को ‘भारत रत्न’ दिए जाने को लेकर बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने ‘एक्स’ पर एक वीडियो पोस्ट कर अपनी बात रखी। उन्होंने कहा- ‘बिहार विधानसभा के शताब्दी वर्ष समारोह में हमने आदरणीय प्रधानमंत्री जी के समक्ष जननायक कर्पूरी ठाकुर जी को भारत रत्न देकर देश के किसी भी प्रधानमंत्री के बिहार विधानसभा में प्रथम आगमन को और अधिक यादगार बनाने की मांग रखी थी।’तेजस्वी ने आगे कहा- ‘वंचित, उपेक्षित, उत्पीड़ित और उपहासित वर्गों के पैरोकार, महान समाजवादी नेता और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री स्व. कर्पूरी ठाकुर जी को ‘भारत रत्न’ देने की हमारी दशकों पुरानी मांग पूरी होने पर अपार खुशी हो रही है। इसके लिए केंद्र सरकार को साधुवाद।’तेज प्रताप बोले- हम जैसे कार्यकर्ताओं की जीतलालू यादव के बड़े बेटे और बिहार सरकार में मंत्री तेज प्रताप ने भी कर्पूरी ठाकुर को ‘भारत रत्न’ दिए जाने पर अपनी बात रखी। उन्होंने एक्स पर पोस्ट में कहा- बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कर्पूरी ठाकुर जी को मरणोपरांत देश के सर्वोच्च सम्मान ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किया जाएगा। ये घोषणा तमाम सामाजिक न्याय के आंदोलनकर्मियों और हम जैसे कार्यकर्ताओं की जीत है। हमारी पार्टी, मा. लालू प्रसाद यादव जी, मा. नीतीश कुमार जी और स्व. मुलायम सिंह यादव जैसे अनेकों समाजवादी प्रहरियों ने पूर्व से ही इस आंदोलन को जीवंत रखा और आज उनकी जीत हुई।’