पश्चिम बंगाल का दक्षिण 24 परगना धमाके से दहला, पटाखा फैक्ट्री में विस्फोट से तीन लोगों की मौत

पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले के महेशतला स्थित पटाखा फैक्ट्री में हुए धमाके में एक नाबालिग समेत तीन लोगों की मौत हो गई। मृतकों की पहचान लिपिका हाटी (52), शांतनु हाटी (22) और आलो दास (17) के रूप में हुई है। लिपिका हाटी उक्त पटाखा फैक्ट्री की मालकिन थी, जबकि शांतनु हाटी उसका बेटा था। आलो दास पटाखा फैक्ट्री के बगल में रहने वाले परिवार के सदस्य थे।बताया जा रहा है कि जहां फैक्ट्री में धमाका हुआ है वह इलाका काफी भीड़भाड़ वाला है और तेज हवा चलने के कारण आग तेजी से फैल गई। महेशतला और बजबज से दमकल की गाड़ियां और पुलिस कर्मी तुरंत मौके पर पहुंचे। राज्य के अग्निशमन सेवा मंत्री सुजीत बसु द्वारा दी गई नवीनतम जानकारी के अनुसार, आग पर काबू पा लिया गया है।स्थानीय लोगों ने दावा किया कि पटाखों की फैक्ट्री अवैध रूप से चल रही थी, इतनी भीड़भाड़ वाली जगह में इस तरह की खतरनाक फैक्ट्री स्थापित करने का कोई प्रावधान नहीं है। पीड़ितों के जले हुए शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए स्थानीय अस्पताल भेज दिया गया है। पुलिस केस दर्ज कर पूरे मामले की जांच कर रही है।