West Bengal | बंगाल में यूक्रेन से भी बदतर स्थिति… शुभेंदु अधिकारी ने अवैध पटाखा विस्फोटों को लेकर टीएमसी सरकार पर बोला तीखा हमला

पश्चिम बंगाल में बीते सात दिनों में कई विस्फोटकों की घटना सामने आयी हैं। इस विस्फोट की गरमाहट बंगाल की राजनीति में भी दिखाई पड़ रही हैं। पश्चिम बंगाल की कानून व्यवस्था को लेकर बीजोपी ममता सरकार पर हमलावर है। पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली टीएमसी सरकार पर तीखा हमला करते हुए शुभेंदु अधिकारी ने सोमवार को कहा कि राज्य की स्थिति यूक्रेन से भी बदतर है। भाजपा नेता का बयान राज्य में अवैध पटाखों से जुड़े एक और विस्फोट के बाद आया है।शुभेंदु अधिकारी ने मीडिया से बात करते हुए कहा, “पश्चिम बंगाल की स्थिति यूक्रेन से भी बदतर है। यूक्रेन में विस्फोटों की संख्या बंगाल की तुलना में कम है। वहां भी स्थिति थोड़ी शांतिपूर्ण हो गई है, लेकिन बंगाल में विस्फोट हो रहे हैं।” इसके अलावा अभिषेक बनर्जी की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा 26 मई को की गई सुनवाई पर टिप्पणी करते हुए शुभेंदु अधिकारी ने पूछा, कानून सबके लिए समान है, तो केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने ममता बनर्जी को शारदा में क्यों छोड़ दिया है? आगामी लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की जीत पर भरोसा जताते हुए शुभेंदु अधिकारी ने कहा, “पीएम नरेंद्र मोदी 400 सीटों को पार करेंगे।” इसे भी पढ़ें: Maharashtra: अमरावती में सड़क हादसे में पांच लोगों की मौत, सात अन्य घायलपश्चिम बंगाल में विस्फोटकेवल सात दिनों के अंतराल में तीन विस्फोटों ने पश्चिम बंगाल को दहला दिया, जिसमें से एक सोमवार को हुआ। बीरभूम जिले में तृणमूल कांग्रेस के एक स्थानीय नेता के घर में कथित तौर पर हुए नवीनतम विस्फोट में हालांकि किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है, लेकिन रविवार को दक्षिण 24 परगना जिले में एक अवैध पटाखा कारखाने में विस्फोट के बाद एक परिवार के तीन सदस्यों की मौत हो गई थी।  इसे भी पढ़ें: मादक पदार्थ जब्ती के मामले में अदालत ने एनसीबी से नया हलफनामा दायर करने को कहातीनों मृतकों की पहचान 65 वर्षीय जमुना दास, उनकी बेटी पंपा घाटी और उनकी 10 वर्षीय पोती जयश्री के रूप में हुई है। हालांकि, विस्फोट में घायलों की संख्या के बारे में नहीं बताया गया है। पहले विस्फोट में 16 मई को पुरबा मेदिनीपुर जिले में एक अन्य अवैध पटाखा कारखाने में 12 लोगों की मौत हो गई थी।एक वरिष्ठ मंत्री ने कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए कि इस तरह के अवैध कारखाने अब मौजूद नहीं हैं, राज्य मंत्रिमंडल ने ग्रीन पटाखा उद्योग के निर्माण के लिए क्लस्टर स्थापित करने का फैसला किया और मुख्य सचिव एचके द्विवेदी की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया। इस बीच, एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि राज्य सरकार ने इस घटना की सीआईडी जांच के आदेश दिए हैं।#WATCH | “The condition of West Bengal is worse than that of Ukraine. There is not as much explosion happening in Ukraine as it is happening in Bengal,” said West Bengal LoP and BJP leader Suvendu Adhikari (22.05) pic.twitter.com/VzQHLIS1vu— ANI (@ANI) May 22, 2023