हम नहीं डरते… ब्रेंडन मैकुलम की भारत को वॉर्निंग! रोहित सेना को उन्हीं के जाल में जकड़ने का प्लान

विशाखापत्तनम: टॉम हार्टले ने पांच मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में शानदार स्पिन गेंदबाजी कर भारतीय बल्लेबाजों की मानसिकता को ठेस पहुंचाई है। इसके बाद इंग्लैंड शुक्रवार से शुरू होने वाले दूसरे टेस्ट मैच में सभी स्पिन गेंदबाजों के साथ उतर सकता है। डेब्यू कर रहे हार्टले ने दूसरी पारी में सात विकेट लेकर इंग्लैंड को 28 रन से जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी। इंग्लैंड के कोच ब्रैंडन मैकुलम अब दूसरे टेस्ट मैच की पिच को देखने का बेसब्री से इंतजार कर रहे है। विशाखापत्तनम के मैदान को आम तौर पर बड़े स्कोर के लिए जाना जाता है। लेकिन पिछले कुछ समय से यहां स्पिनरों का दबदबा रहा है। मैकुलम ने कहा कि अगर परिस्थितियां पूरी तरह से स्पिनरों की मुफीद हुई तो उनकी टीम गेंदबाजी विभाग में सभी स्पिनरों के साथ उतरने से पीछे नहीं हटेगी। इस मैच में शोएब बशीर को डेब्यू का मौका मिल सकता है जबकि अनुभवी स्पिनर जैक लीच की चोट की स्थिति के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है। लीच अगर फिट रहते है तो बशीर पहले टेस्ट में खेलने वाले इकलौते तेज गेंदबाज मार्क वुड की जगह ले सकते हैं। न्यूजीलैंड के इस पूर्व कप्तान ने कहा, ‘अगर सीरीज के आगे बढ़ने पर विकेट उसी तरह से टर्न लेते रहे जैसा हमने पहले टेस्ट में देखा था, तो हम सभी स्पिनरों के साथ खेलने से पीछे नहीं हटेंगे।’ उन्होंने कहा, ‘बशीर हमारे साथ अबू धाबी में कैंप में थे और उन्होंने अपने कौशल से हमें प्रभावित किया। वह सहजता से इस समूह का हिस्सा बने। कम उम्र और प्रथम श्रेणी में कम अनुभव के बावजूद वह ऐसे खिलाड़ी हैं जिनमें उत्साह की कोई कमी नहीं है।’ मैकुलम ने अनुभवहीन गेंदबाजों का शानदार तरीके से इस्तेमाल करने पर कप्तान बेन स्टोक्स की तारीफ की। हार्टले के खिलाफ पहली पारी में भारतीय बल्लेबाजों ने खुल कर रन बनाये थे। लेकिन उन्होंने दूसरी पारी में सात विकेट चटका कर मैच का पासा पलट दिया। मैकुलम ने कहा, ‘उन्हें प्रथम श्रेणी का ज्यादा अनुभव नहीं है और चयन के लिहाज से शायद वह थोड़े कमजोर थे। लेकिन हमने उनमें कुछ ऐसा देखा जो यहां प्रभावी होता। वह एक मजबूत जज्बे वाले खिलाड़ी हैं।’ उन्होंने कहा, ‘कप्तान ने जिस तरह से उन्हें संभाला वह काफी उल्लेखनीय था, और उन्होंने साफ तौर पर हमें टेस्ट में जीत दिलाई। यह शानदार कप्तानी का एक नमूना था।’ उन्होंने कहा, ‘ यह सिर्फ हार्टले के लिए नहीं बल्कि सभी के लिए एक संदेश है कि मैदान में स्वच्छंद होकर खेलने की पूरी आजादी दी जायेगी।’