कश्मीर में बर्फबारी से आई पर्यटकों के चेहरे पर खुशी की लहर

श्रीनगर। कश्मीर में बर्फबारी से पर्यटन क्षेत्र में प्रसन्नता दिख रही है, पर्यटकों और पर्यटन से जुड़े स्थानीय लोगों के चेहरे पर खुशी है। अच्छी बर्फबारी के अभाव में पर्यटन उद्योग पिछले कुछ महीनों से प्रभावित था। यहां आने वाले कई पर्यटकों ने अपनी यात्रा रद्द कर दी थी। घाटी में पर्यटकों के आगमन पर आमतौर पर गुलमर्ग जैसे रिसॉर्ट्स में पर्यटकों की संख्या अधिक होती है, लेकिन बर्फ के अभाव में यह संख्या कम हो गई, जोकि घाटी में पर्यटन के हितधारकों के लिए चिंता का विषय है। हालांकि, 40 दिनों की कठोर सर्दियों वाले ‘चिल्ला-ए-कलां’ के अंत में बर्फबारी ने पर्यटकों और पर्यटन कारोबार से जुड़े लोगों को खुश कर दिया है। बच्चों सहित सैकड़ों पर्यटक गुलमर्ग और सोनमर्ग रिसॉर्ट्स में बर्फबारी का आनंद ले रहे हैं। कोलकाता के एक पर्यटक जोड़े अनिंदा और देओतिमा ने गुलमर्ग में कहा, “हमने 23 जनवरी के लिए टिकट बुक किए थे, लेकिन पूर्वानुमान देखने के बाद हमने अपनी यात्रा स्थगित कर दी। हम 25 जनवरी को यहां पहुंचे और किस्मत से हमें बर्फबारी देखने का अवसर मिला। उन्होंने कहा कि बर्फबारी के बाद कश्मीर सचमुच स्वर्ग जैसा दिखता है। महाराष्ट्र के नागपुर से आए पर्यटक मोहम्मद इमरान ने कहा कि बर्फबारी के बाद वह फिर से गुलमर्ग रिसॉर्ट लौट आए हैं।  इसे भी पढ़ें: Karnataka । कार की चपेट में आने से डेढ़ साल के नर बाघ की हुई मौतउन्होंने कहा “दो दिन पहले, वहां कुछ भी नहीं था और मैदान खाली दिख रहा था। भगवान की कृपा से अब बर्फबारी हो रही है और हमें यहां आकर बहुत अच्छा लग रहा है… जब हमने सुना कि गुलमर्ग में बर्फबारी हुई है, तो हम श्रीनगर से वापस आ गए। मौसम विभाग ने केंद्र शासित प्रदेश के कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश या बर्फबारी की संभावना जताई है और अगले दो दिनों में कुपवाड़ा, बांदीपोरा, बारामूला, गांदरबल, शोपियां, कुलगाम और अनंतनाग जिलों जैसे कुछ ऊपरी इलाकों में भारी बर्फबारी हो सकती है।