रूसी राष्‍ट्रपति पुतिन के इशारे पर हिज्‍बुल्‍लाह को खतरनाक हथियार देगा वैगनर ग्रुप, इजरायल पर खतरा होगा डबल?

वॉशिंगटन: अमेरिका की एक इंटेलीजेंस रिपोर्ट इजरायल को थोड़ा परेशान कर सकती है। अमेरिका के खुफिया अधिकारियों की मानें तो रूस का प्राइवेट मिलिट्री ग्रुप वैगनर लेबनान के आतंकी संगठन हिज्‍बुल्‍लाह के साथ हाथ मिला सकता है। इंटेलीजेंस की मानें तो रूस के ये भाड़े के सैनिक हमास के खिलाफ इजरायल के युद्ध में दूसरा मोर्चा खोलने के लिए हिजबुल्लाह की मदद कर सकते हैं। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि वैगनर लेबनान के इस आतंकी सगठन को एक एयर डिफेंस सिस्‍टम देने की योजना बना रहा है। हिज्‍बुल्‍लाह को एयर डिफेंस सिस्‍टम अमेरिका के इंटेलीजेंस विभाग के हवाले से अखबार वॉल स्‍ट्रीट जनरल ने लिखा है कि वैगनर समूह हिज्‍बुल्‍लाह को रूस की खतरनाक SA-22 सिस्‍टम देने का मन बना रहा है। यह सिस्‍टम हवाई जहाजों को रोकने के लिए एंटी-एयरक्राफ्ट मिसाइल और एयर-डिफेंस बंदूकों का प्रयोग करता है। एक अनाम अमेरिकी अधिकारी के मुताबिक अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी है कि सिस्टम भेजा गया है या नहीं? अधिकारी वैगनर सैनिकों और हिजबुल्लाह के बीच होने वाली बातचीत पर नजर रखे हुए हैं। इस सिस्‍टम की डिलीवरी उनके लिए एक बड़ी चिंता का विषय हो सकती है। वैगनर सैनिकों ने सीरिया में एक महत्वपूर्ण रोल अदा किया था। यहां पर देश के नेता राष्‍ट्रपति बशर अल-असद को मजबूत करने में बड़ी मदद की थी। असद, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के प्रमुख सहयोगी हैं। खुलेगा उत्‍तरी मोर्चा यह जानकारी ऐसे समय में आई है जब ईरान के समर्थन वाला हिजबुल्लाह, इजरायल के साथ लेबनान की सीमा पर उत्तरी मोर्चा खोलने की तैयारी कर रहा है। हिज्‍बुल्‍लाह की तरफ से होने वाले किसी भी हमले को रोकने के लिए अमेरिका ने पूर्वी भूमध्य सागर में एक एयरक्राफ्ट कैरियर तैनात किया है। हिज्‍बुल्‍लाह के नेता हसन नसरल्ला शुक्रवार को भाषण दे सकता है। यह सात अक्टूबर को हमास आतंकियों की तरफ से इजरायल पर हमला करने के बाद उसका पहला भाषण होगा। विशेषज्ञों की नजरें इस पर टिकी हैं कि नसरल्लाह भाषण में क्‍या कहेगा। उसके भाषण से संकेत मिलेगा कि समूह युद्ध में प्रवेश करने की योजना बना रहा है या नहीं।हमास के 130 आतंकी ढेर इस बीच इजरायल डिफेंस फोर्सेज (आईडीएफ) ने गुरुवार को कहा है कि गाजा में जमीनी लड़ाई शुरू होने के बाद से उसने 130 हमास आतंकवादियों को मार गिराया है। आईडीएफ ने कहा कि उसने 27 अक्टूबर से गाजा पट्टी में कई आतंकी ढांचों को भी नष्ट कर दिया है। बयान में कहा गया है कि आईडीएफ हवाई, समुद्र और जमीन से हमास से मुकाबला कर रहा है। इजरायल के प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा है कि गाजा शहर के बाहरी इलाके में है और उसे प्रभावशाली सफलता मिली है। उन्होंने कहा कि सेना आगे बढ़ रही है और उसकी प्रगति को कोई नहीं रोक सकता।