नोटा से भी कम वोट, हिमाचल में सभी और गुजरात में कई सीटों पर AAP की जमानत जब्त

नई दिल्ली: गुजरात में बीजेपी की प्रचंड जीत के बाद बीजेपी (BJP) ने आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को आड़े हाथ लिया और कट्टर बेईमान बताया। बीजेपी अध्यक्ष जे. पी. नड्डा ने गुरुवार को गुजरात जीत के जश्न के दौरान अपने संबोधन मे कहा कि आम आदमी पार्टी ने गुजरात में जीत की भविष्यवाणी की थी। मगर आम आदमी पार्टी की गुजरात की अधिकांश और हिमाचल की सभी सीटों पर जमानत हो गई। उन्होंने कहा कि हिमाचल की कुछ सीटों पर तो आप को नोटा से भी कम वोट मिले हैं। दरअसल हिमाचल प्रदेश में पहली बार विधानसभा चुनाव लड़ने वाली आम आदमी पार्टी (AAP) को केवल 1.10 प्रतिशत मत हासिल हुए और वह अपना खाता तक नहीं खोल पाई। दिल्ली और पंजाब में रिकार्ड जीत दर्ज करने वाली AAP हिमाचल में खाता तक नहीं खोल पाई और 67 सीटों पर खड़े आप के प्रत्याशी अपनी जमानत तक नहीं बचा पाए। कई सीट पर उसे नोटा से भी कम वोट मिले हैं। कुल मिलाकर नोटा का प्रतिशत करीब 0.60 रहा। डलहौजी, कसुम्पटी, चौपाल, अर्की, चंबा और चुराह जैसे निर्वाचन क्षेत्रों में आप की तुलना में लोगों ने नोटा को अधिक तरजीह दी।

‘लोगों को बेवकूफ बनाया और इसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए’

आप को लेकर उन्होंने कहा कि एक नई पार्टी चुनाव मैदान में उतरी है और उसके नेता लिख कर देते थे और दावा करते थे कि ‘आम आदमी पार्टी को इतनी सीटें मिलेंगी।’ उन्होंने कहा, ‘उसके मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार, प्रदेश अध्यक्ष और अन्य सभी बड़े नेता चुनाव हार गए। इससे पता चलता है कि गुजरात के लोग उन लोगों पर विश्वास नहीं करते हैं जो झूठे वादे करते हैं और मुफ्तखोरी की राजनीति करते हैं।’ आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल पर निशाना साधते हुए नड्डा ने कहा कि वह खुद को पूर्ण ईमानदार बताते थे ‘लेकिन उन्होंने लोगों को बेवकूफ बनाया और इसके लिए उन्हें माफी मांगनी चाहिए।’ बिहार में कुढ़नी विधानसभा सीट के उपचुनाव में भाजपा की जीत का जिक्र करते हुए नड्डा ने कहा कि यह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए संदेश है कि राज्य के लोग प्रधानमंत्री मोदी के साथ हैं।

नड्डा ने कांग्रेस पर भी बोला हमला

गुजरात में भाजपा की जबरदस्त जीत पर नड्डा ने कहा कि पार्टी को 52.5 प्रतिशत वोट मिले। उन्होंने कहा, ‘गुजरात में आज तक किसी भी पार्टी को इतने वोट और इतनी सीटें नहीं मिली हैं।’ उन्होंने प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछली बार उसका मत प्रतिशत 41.4 फीसदी था, जो इस बार घटकर 27.3 फीसदी रह गया है। उन्होंने कहा कि इसकी सीटें भी 77 से घटकर 17 रह गई हैं। नड्डा ने कहा कि यह कांग्रेस की नकारात्मक राजनीति, गैर जिम्मेदार विपक्ष और उसकी वंशवादी राजनीति का नतीजा है। उन्होंने कहा कि यह गुजरात में कांग्रेस की अब तक की सबसे बड़ी हार है।

‘आप सरकार ने BJP शासित नगर निगमों के कामकाज में बाधा डाली’

मोदी और पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में नड्डा ने पार्टी मुख्यालय में भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए नड्डा ने दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) चुनावों में उत्साहपूर्ण प्रदर्शन के लिए दिल्ली के पार्टी कार्यकर्ताओं की भी सराहना की और कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में ‘आप’ सरकार ने भाजपा शासित नगर निगमों के कामकाज में बाधा उत्पन्न की थी। नड्डा ने मोदी के नेतृत्व की सराहना करते हुए कहा कि गुजरात में भारी बहुमत ने स्पष्ट कर दिया है कि राज्य के लोग प्रधानमंत्री की कल्याणकारी नीतियों और उनकी विकास की राजनीति में विश्वास करते हैं।

बीजेपी कार्यकर्ताओं की मेहनत को किया सलाम

बीजेपी अध्यक्ष जे. पी. नड्डा ने गुरुवार को कहा कि गुजरात विधानसभा चुनाव में पार्टी की जीत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की विकास की राजनीति का प्रमाण है। उन्होंने आम आदमी पार्टी (AAP) पर कटाक्ष करते हुए कहा कि उसके मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार और राज्य इकाई के प्रमुख दोनों चुनाव हार गए। उन्होंने हिमाचल प्रदेश में कड़ी मेहनत करने के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया और कहा कि हिमाचल में ‘राज’ भले ही बदल गया हो, लेकिन ‘रिवाज’ भी बदल गया क्योंकि शीर्ष दो दलों के मत प्रतिशत में एक प्रतिशत से भी कम का अंतर है।