VIDEO: एक हाथ में ब्रीफकेस, दूसरे में माइक लेकर सड़कों पर FD बेच रहे बैंक के कर्मचारी

नई दिल्‍ली: ने पिछले दिनों खास फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट योजना (Special FD Scheme) लॉन्‍च की थी। बैंक के अनुसार, 666 दिनों की एफडी स्‍कीम में इनवेस्‍टमेंट पर 7% ब्‍याज मिलता है। सीनियर सिटिजंस के लिए 666 दिनों की स्‍पेशल एफडी स्‍कीम में ब्‍याज दर 7.5% है। सरकारी बैंक ने 7 अक्‍टूबर को यह स्‍कीम शुरू करते हुए ‘इनवेस्‍टमेंट पर अधिकतम रिटर्न’ का दावा किया था। फेस्टिव सीजन में बैंक को अच्‍छे-खास टर्नआउट की उम्‍मीद है। सोशल मीडिया से लेकर सड़कों तक प्रचार हो रहा है! एक वायरल वीडियो में कुछ लोग सड़कों पर केनरा बैंक की एफडी बेचते दिख रहे हैं। ट्विटर पर शेयर वीडियो मुंबई के उपनगरीय इलाके का बताया जा रहा है। एक हाथ में ब्रीफकेस और दूसरे में माइक लिए कथित रूप से बैंक कर्मचारी लोगों को स्‍कीम के फायदे समझा रहे हैं। साथ में ब्रोशर लिए दो-तीन लोग और हैं। जो दुकान-प्रतिष्‍ठान जाकर 666 FD कराने की गुहार कर रहे हैं। एनबीटी ऑनलाइन वीडियो से जुड़े सभी दावों की पुष्टि नहीं करता है।

ट्विटर पर एक और वीडियो भी शेयर हो रहा है। इसमें युवाओं को पीठ पर केनरा बैंक की FD स्‍कीम के पोस्‍टर्स लटकाए देखा जा सकता है। यह साफ नहीं है कि वीडियो कहां का है। कुछ लोगों ने कमेंट किया है कि केनरा बैंक ऐसा इसलिए कर रहा है ताकि पंजाब नैशनल बैंक (PNB) को पछाड़ सके। फिच रेटिंग्‍स के अनुसार, PNB देश का दूसरा सबसे बड़ा सरकारी बैंक है।

इसी महीने बैंक FD पर ब्‍याज दरें बढ़ाईंअक्‍टूबर में ही केनरा बैंक ने 2 करोड़ रुपये से कम के फिक्‍स्‍ड डिपॉजिट पर ब्‍याज दरें बढ़ा दी थीं। 666 स्‍कीम उसी के बाद लॉन्‍च की गई थी। अभी 5 साल से लेकर 10 साल तक के एफडी पर बैंक 7% ब्‍याज दे रहा है। 666 स्‍कीम के जरिए केनरा बैंक ग्राहकों को 666 दिन में 7% की दर से रिटर्न का वादा कर रहा है। सीनियर सिटिजंस को स्‍कीम में 7.5% ब्‍याज मिलेगा।

केनरा बैंक का शुद्ध लाभ सितंबर तिमाही में 89% चढ़ासार्वजनिक क्षेत्र के केनरा बैंक का शुद्ध लाभ जुलाई-सितंबर तिमाही में 89 प्रतिशत बढ़कर 2,525 करोड़ रुपये हो गया। बैंक ने शेयर बाजारों को भेजी एक सूचना में यह बताया। बैंक को पिछले वित्त वर्ष की समान अवधि में 1,333 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। मौजूदा तिमाही में केनरा बैंक की कुल आय भी बढ़कर 24,932.19 करोड़ रुपये हो गई, जो एक साल पहले की समान अवधि में 21,331.49 करोड़ रुपये थी।