CDA Officer की मौत के मामले में दो युवक गिरफ्तार, बरामद की गई ये चीज़ें

मेरठ पुलिस ने रक्षा लेखा नियंत्रक कार्यालय (सीडीए) के वरिष्ठ ऑडिटर की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के मामले में बृहस्पतिवार को दो युवकों को गिरफ्तार कर लिया।
पुलिस का दावा है कि दोनों युवकों ने लूट की घटना को अंजाम देने के बाद अधिकारी को ऑटो रिक्शा से धक्का दे दिया था जिस वजह से लगी चोट के कारण उसकी मौत हो गई।
अपर पुलिस अधीक्षक आयुष विक्रम सिंह ने सीडीए अफसर की मौत का खुलासा करते हुए आज बताया कि सीडीए अधिकारी अंकित पवार का शव गत 14 जनवरी को एक रेस्तरां के सामने मिला था और इस मामले में अंकित के पिता सुधीर पवार की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की गई थी। उन्होंने बताया कि विवेचना के दौरान आशू उर्फ हेमन्त उर्फ लालका तथा रोहित उर्फ टारजन के नाम सामने आए थे और इन दोनों को आज गिरफ्तार कर लिया गया।
सिंह के मुताबिक, अभियुक्तों ने पूछताछ में बताया कि उन दोनों ने अंकित पवार को बहुत अधिक शराब पिला दी थी जिससे वह नशे में धुत हो गये थे जिसके बाद उन्होंने पवार को एक ऑटो में बैठाया और उनका मोबाइल फोन और बटुआ लूट कर उन्हें ऑटो रिक्शा से कथित रूप से धक्का दे दिया।
उन्होंने बताया कि पकड़े गए बदमाशों के पास से पवार का पहचान पत्र और उनसे लूटी गई ढाई हजार रुपये की धनराशि बरामद की गई है।