दो दिवसीय राजस्थान Police Cyber ​​Hackathon कार्यक्रम जयपुर में, 17 एवं 18 जनवरी को होगा आयोजित

जयपुर। राजस्थान पुलिस साइबर हैकाथॉन जयपुर में बुधवार से आयोजित की जाएगी जिसका उद्देश्य साइबर सुरक्षा क्षेत्र को नई ऊंचाइयों तक ले जाने तथा युवा और प्रतिभाशाली साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों को एक मंच उपलब्ध कराना है। पुलिस महानिदेशक (साइबर अपराध) डॉ. रवि प्रकाश मेहरड़ा ने सोमवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 17 एवं 18 जनवरी को राजस्थान पुलिस साइबर हैकाथॉन 1.0 आयोजित की जा रही है। इससे पहले मंगलवार की शाम राजस्थान पुलिस अकादमी में आकर्षक ड्रोन शो का आयोजन किया गया है। कार्यक्रम में अधिक से अधिक जनभागीदारी के प्रयास किये गए हैं। मेहरड़ा ने बताया कि आधारभूत सूचनाओं के डाटा को साइबर खतरों से बचाने के लिए एवं साइबर हमले में हुए जोखिम का मूल्यांकन, साइबर सुरक्षा स्थिति में सुधार, नीतियां, तकनीकी नवाचार और निरंतर सुधार आदि अति आवश्यक हैं। राजस्थान अंतरराष्ट्रीय केंद्र में 17 एवं 18 जनवरी को आयोजित साइबर हैकाथॉन में विभिन्न शैक्षणिक संस्थानों, उद्योगों, रिसर्च लैब्स और स्टार्टअप के 1665 प्रतिभागियों ने पंजीयन करवाया है। इनमें लगभग 300 टीमें भाग लेगी। यह टीमें 12 साइबर सुरक्षा से संबंधित समस्याओं का समाधान निकालने के लिए 36 घंटे तक निरंतर काम करेंगी। साइबर हैकाथॉन के दौरान साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों द्वारा भविष्य की 12 चुनौतियों पर मंथन कर हल निकालने का प्रयास किया जाएगा।हैकाथॉन के विजेताओं को विभिन्न श्रेणियां में कुल 20 लाख रु के नगद पुरस्कार और प्रशस्ति पत्र प्रदान किए जाएंगे। साथ ही सभी टीमों को राजस्थान पुलिस के साथ इंटर्नशिप प्रोग्राम में भी शामिल किया जाएगा। उन्होंने बताया कि हैकाथॉन से पहले 16 जनवरी को शाम पांच बजे से शहर में पहली बार राजस्थान पुलिस अकादमी परिसर में ड्रोन प्रदर्शन किया जाएगा। इसमें मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा मुख्य अतिथि होंगे।