आज अंतिम बार अस्‍थाई मंदिर में मनाई जाएगी राम नवमी, अगले साल भव्‍य राम मंदिर में होगा आयोजन

अयोध्‍या: अयोध्‍या (Ayodhya) में राम नवमी () के पर्व पर भव्‍य राम जन्‍मोत्‍सव की तैयारी है। आज इस साल कई भव्‍य व रंगारंग कार्यक्रमों का आयेाजन हो रहा है। राम लला अगले साल भव्‍य में विराजमान हो जाएंगे। ऐसे में यह आखिरी जन्‍मोत्‍सव है जब प्रभु राम अस्‍थाई मंदिर में विराजमान हैं। अगले साल की राम नवमी में प्रभु रामलला भव्‍य राम मंदिर के गर्भ गृह में विराजमान मिलेंगे। राम मंदिर ट्रस्‍ट के सदस्‍य डॉ अनिल मिश्र ने बताया कि इस साल जन्म भूमि मंदिर में भी राम नवमी पूरी भव्‍यता के साथ मनाई जा रही है। अस्‍थाई राम लला मंदिर को फूल बंगले सा सजाया जा रहा है। रंगोली बनाई गई है। मंदिर में दर्शन करने वाले एक लाख श्रद्धालुओं को विशेष फलाहारी प्रसाद मिेलेगा। सांस्‍कृतिक कार्यक्रमों का भी दो दिनों से आयोजन किया जा रहा है। कनक भवन मंदिर में राम जन्‍मोत्‍सव का विशेष आयोजन हर साल की तरह किया जा रहा है। नवमी की तिथि पर 12 बजे दिन में प्रभु राम के प्रकट्येात्‍सव का लाइव प्रसारण दूरदर्शन पर होगा।डीएम नितीश कुमार ने बताया कि इस साल विविध कार्यक्रमों व विदेशी सांस्‍कृतिक दलों के कार्यक्रमों का आयोजन, राम मंदिर ट्रस्‍ट के राम जन्‍मोत्‍सव के कार्यक्रम के चलते पहले की तुलना में अधिक भीड़ आने की संभावना है। इसके मद्देनजर मेले की व्‍यवस्‍था बेहद चुश्‍त दुरूस्त रखी गई है। प्रमुख इलाकों में सुरक्षा बलों और मैजिस्‍ट्रेटों की तैनाती की गई है। हवाई दर्शन की व्‍यवस्‍थाराम नवमी के अवसर पर पहली बार राज्‍य पर्यटन विकास निगम लिमिटेड व हेरिटेज एविएशन ने हेलीकाप्‍टर से हवाई दर्शन की सेवा उपलब्‍ध करवाई है। यह बुधवार से शुरू हो गई है। जिसके लिए सरयू अतिथि गृह के निकट हेली पैड स्‍थल निर्धारित किया गया है जहां से श्रद्धालु व पर्यटक हवाई दर्शन कर सकेगें। लेकिन इस सेवा का लाभ छोटे बच्‍चों को नहीं मिलेगा ।रामायण कॉन्‍क्‍लेव का आयोजनराम नवमी के अवसर पर इस साल यहां का आर्कषण रामायण कॉन्‍क्‍लेव का आयेाजन भी है। 30 और 31 मार्च को इसका आयोजन राम कथा पार्क में संस्‍कृति व पर्यटन विभाग कर रहा है। इसका संयोजन अयोध्‍या शोध संस्‍थान कर रहा है। कमिश्‍नर गौरव दयाल के मुताबिक, राम जन्‍मोत्‍सव के अवसर पर आयोजित रामायण कान्‍क्‍लेव में विदेशी व देश के जाने माने कलाकार दोनों दिन राम कथा पर अपनी प्रस्‍तुतियां देंगे। इसमें मालिनी अवस्‍थी का रघुबीरा लोक गायन, गेआक्‍स ग्रुप इंडोनेशिया व अप्‍सरा ग्रुप सिंगापुर की नृत्‍य नाटिकाएं व भजन सम्राट अनूप जलोटा की भजन प्रस्‍तुति मुख्‍य आर्कषण के केद्र होंगे।राम लला की दर्शन अवधि बढ़ीराम नवमी के अवसर पर राम लला की दर्शन अवधि दोनों पालियों में आधे-आधे घंटा बढ़ा दी गई है। अब 11 घंटों तक श्रद्धालु राम लला का दर्शन कर रहे हैं। राम जन्‍मोत्‍सव पर राम लला का दर्शन सुबह 6:30 बजे से 11:30 बजे तक व सायं 2 बजे से 7:30 बजे तक दर्शन हो रहा है।