PHOTOS: माथे पर तिलक, पीले कपड़े, महाकाल की आरती… सोनू सूद ने पत्नी संग किए दर्शन

#gallery-1 {
margin: auto;
}
#gallery-1 .gallery-item {
float: left;
margin-top: 10px;
text-align: center;
width: 33%;
}
#gallery-1 img {
border: 2px solid #cfcfcf;
}
#gallery-1 .gallery-caption {
margin-left: 0;
}
/* see gallery_shortcode() in wp-includes/media.php */

कोरोना कॉल में मसीहा बनकर उभरे अभिनेता सोनू सूद ने शनिवार को महाकाल के दरबार में हाजिरी लगाई. मंदिर के गर्भगृह में पूजन अर्चन किया. इस दौरान उनके साथ पत्नी व परिवार के अन्य सदस्य भी मौजूद रहे. सोनू सूद ने बाबा से सभी के कल्याण और शांति की प्रार्थना की. वहीं कोरोना के लौटने संबंधी सवाल पर उन्होंने कहा कि देश में किसी को भी उनकी जरूरत पड़े तो उन्हें फोन कर सकता है.

महाकालेश्वर के दर्शन के बाद मंदिर परिसर में सोनू सूद ने मीडिया से बात की. कहा कि बाबा से सभी के लिए खुशियां ही मांगी है. उन्होंने कहा कि भगवान से उन्होंने कहा है कि उन्हें इतनी शक्ति मिले कि वह मानवता के काम आ सकें. धार्मिक नगरी उज्जैन में भगवान महाकालेश्वर के दर्शन के बाद अब सोनू सूद अलग-अलग कार्यक्रमों में शामिल होंगे.

महाकाल मंदिर में दर्शन के दौरान अभिनेता सोनू सूद स्पाइनल मस्कुलर एट्रोफी बीमारी से पीड़ित उज्जैन के अथर्व से मिले. उन्होंने अथर्व के इलाज की पूरी फाइल देखने के बाद परिजनों को आर्थिक मदद व डोनेशन दिलाने का भरोसा दिया. इस दौरान उन्होंने मीडिया से कहा कि महाकाल की कृपा होगी. इसीलिए मैं शायद अर्थव से मिलने उज्जैन आया हूं. अथर्व का बेस्ट डॉक्टरों से इलाज करवाया जाएगा. उनके मुंबई पहुंचने से पहले अथर्व का इलाज शुरू हो जाएगा.

स्पाइनल मस्कुलर एट्रोफी एक आनुवंशिक बीमारी है. इसमें भी टाइप-1 सबसे गंभीर होती है. भारत में भी इस बीमारी के कई मामले सामने आ चुके हैं. ताजा मामला तीरा कामत नाम की एक बच्ची का है. जिसका इलाज मुंबई के एक अस्पताल में इस बीमारी में लगने वाले केवल एक इंजेक्शन की कीमत है 16 करोड़ रुपये है.

महाकालेश्वर धाम पहुंचे सोनू सूद ने पूजन के दौरान परंपरिक वस्त्र धारण किया और विधि विधान से भोले बाबा का पूजन किया. उन्होंने इस मौके पर भगवान महाकालेश्वर का जलाभिषेक भी किया.