प्रेमिका से थे युवक के अवैध संबंध, पहले अगवा किया फिर हत्या कर नदी में गाड़ दिया शव

मध्य प्रदेश शिवपुरी में एक युवक ने अपने पड़ोस में रहने वाले व्यक्ति को अगवा कर हत्या कर दी. इसके बाद आरोपी ने उसके शव को नदी में गाड़ दिया. यह वारदात शिवपुरी के इंदार गांव में छह दिन पहले का है. पुलिस ने अब नदी से युवक का शव बरामद करने के बाद मामले की जांच करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी ने पुलिस की पूछताछ में बताया है कि मृत व्यक्ति के उसकी प्रेमिक के साथ अवैध संबंध थे. बार बार मना करने के बाद भी वह उसकी प्रेमिका को छोड़ने का तैयार नहीं था. इसलिए उसने हत्या कर उसे रास्ते से ही हटा दिया.
पुलिस ने बताया कि इंदार गांव का रहने वाला राकेश पुत्र भारत सिंह रघुवंशी 12 दिसम्बर की रात 10 बजे संदिग्ध परिस्थिति में लापता हो गया था. पूरी रात जब वह वापस नहीं लौटा तो घर वालों ने तलाश शुरू की. रात दस बजे के बाद उसने फोन भी नहीं उठाया. इसलिए परिजनों को चिंता हुई और पुलिस को सूचना दी. पुलिस ने गुमशुदगी का मामला दर्ज कर राकेश की तलाश शुरू की. इसी दौरान इंदार नदी के किनारे उसका जूता देखकर पुलिस को शक हुआ. इसके बाद पुलिस ने नदी में तलाश कराई और शव को बरामद कर लिया.
कॉल डिटेल से आरोपी पर हुआ शक
पुलिस ने बताया कि काफी तलाश के बाद भी जब राकेश की कोई खबर नहीं मिली तो उसके मोबाइल फोन की कॉल डिटेल निकाली गई. इसमें राकेश को आखिरी कॉल पड़ोसी देवेन्द्र पुत्र रघुवीर चौहान का था. संदेह के आधार पर पुलिस ने पहले उससे पूछताछ की. लेकिन वह शुरू में पुलिस को गुमराह करता रहा. लेकिन पुलिस के सख्ती करते ही आरोपी ने अपनी वारदात कबूल कर ली.
आरोपी की निशानदेही पर बरामद हुआ शव
पुलिस ने बताया कि आरोपी के वारदात कबूलने के बाद उससे निशानदेही कराई गई. इस दौरान रविवार की दोपहर इंदार नदी में से राकेश का शव बरामद किया गया है. आरोपी ने बताया कि उसने राकेश की हत्या इंदार के श्मशान घाट के पास गोली मारकर की गई थी. गोली राकेश को कान के पीछे लगी जो आंख के पास से बाहर निकल गई. पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिया है.
लव ट्रैंगल की वजह से की हत्या
आरोपी देवेंद्र ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि जिस लड़की से वह प्यार करता है, उसी के साथ राकेश के अवैध संबंध थे. उसने राकेश को कई बार प्रेमिका से दूर रहने की हिदायत भी दी, लेकिन वह नहीं मान रहा था. इसके अलावा राकेश से उसने कुछ रुपये भी उधार लिए थे, जिसे वह चुका नहीं पा रहा था. वहीं राकेश इन पैसों के लिए लगातार दबाव बना रहा था.
पुलिस को देख बक्से में छिपा, निकाल तो तान दिया तमंचा
आरोपी देवेंद्र की तलाश में पुलिस जब उसके घर पहुंची तो वह एक बक्से में छिप गया. वहीं उसके परिजनों ने कह दिया कि वह घर में नहीं है. लेकिन पुख्ता इनपुट पर पहुंची पुलिस ने घर में तलाशी शुरू कर दी. इस दौरान वह एक बक्से में छिपा मिला. पुलिस ने जब बक्सा खोला तो आरोपी ने पुलिस पर ही तमंचा तान दिया. इसके बाद उसने वही तमंचा खुद अपनी कनपटी पर सटा लिया. हालांकि पुलिस ने सतर्कता दिखाते हुए उसे पीछे से दबोच लिया.
ऐसे किया गुमराह
पकड़े जाने के बाद आरोपी ने देवेंद्र ने पुलिस को बताया कि राकेश अशोक नगर गया है और तीन दिन में वापस आ जाएगा. 17 दिसंबर को वह पुलिस के साथ निशानदेही कराने अशोकनगर भी गया., लेकिन वहां पहुंचकर उसने कहानी बदल दी. लेकिन पुलिस की सख्ती पर टूट गया. आरोपी ने बताया कि राकेश ने सुसाइड किया है. पुलिस ने भी जब शव नदी से निकाला तो उसकी जेब से सुसाइड नोट बरामद हुआ था. ऐसे में परिजनों ने सवाल उठाया कि राकेश पढ़ा लिखा नहीं था तो उसने कैसे सुसाइड नोट लिख दिया. पुलिस को आशंका है कि इस वारदात में देवेंद्र के साथ कोई और भी हो सकता है. एसडीओपी कोलारस विजय यादव ने बताया कि जल्द ही दूसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा.