आज फिर से शुरू होगा सर्दी का सितम, नए साल पर पड़ेगी गलाने वाली ठंड, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में पिछले तीन दिनों से धूप खिलने से लोगों को सर्दी से कुछ राहत मिली है। लेकिन 31 दिसंबर से एक बार फिर सर्दी के तेवर तीखे होंगे। तापमान में भी भारी गिरावट होगी और जनवरी के पहले हफ्ते में लगातार कई दिनों तक शीतलहर का प्रकोप बना रह सकता है।

फिर शुरू होंगी बर्फीली हवाएं

मौसम विभाग के अनुसार हिमालय पर चल रहे वेस्टर्न डिस्टरबेंस का असर अब कम हो गया है। एक बार फिर बर्फीली हवाएं राजधानी तक आने लगेंगी। इसकी वजह से तापमान में गिरावट आएगी। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 22.8 डिग्री रहा। यह सामान्य से दो डिग्री अधिक रहा। न्यूनतम तापमान दिसंबर में दूसरी बार 10 डिग्री से ऊपर दर्ज किया गया। न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री अधिक 10.7 डिग्री रहा। पालम में न्यूनतम तापमान 12.2, गुरुग्राम में 11.7, फरीदाबाद में 10.6, गाजियाबाद में 10.9, जाफरपुर में 11.2, मंगेशपुर में 10.1, नजफगढ़ में 14 डिग्री, नोएडा में 11.4, पीतमपुरा में 14.4, सीडब्ल्यूजी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में 13.7 और मयूर विहार में 11.8 डिग्री रहा। नजफगढ़ और पीतमपुरा में यह सामान्य से 7 और 8 डिग्री अधिक रहा।

मौसम विभाग ने जारी किया येलो अलर्टमौसम विभाग के अनुसार शनिवार को आंशिक तौर पर बादल छाए रहेंगे। सुबह के समय घना कोहरा रह सकता है। अधिकतम तापमान 21 और न्यूनतम तामपान 8 डिग्री रहेगा। साल के पहले दिन 1 जनवरी को अधिकतम तापमान 20 और न्यूनतम तापमान 5 डिग्री के आसपास रहेगा। वहीं, इसके बाद 2 से 5 जनवरी के बीच अधिकतम तापमान 18 से 20 डिग्री और न्यूनतम तापमान 4 डिग्री के आसपास सिमट जाएगा। इस बीच राजधानी में घने कोहरे और शीत लहर को लेकर येलो अर्ल्ट भी जारी किया गया है।

4 डिग्री तक जा सकता है तापमानस्काईमेट के अनुसार दिल्ली-एनसीआर में न्यूनतम तामपान में शनिवार को 2 से 3 डिग्री की गिरावट आ सकती है। इसके बाद भी इसमें गिरावट आएगी। तापमान 4 डिग्री तक जा सकता है। जनवरी के पहले हफ्ते तक शीतलहर की स्थिति बनी रह सकती है। कड़ाके की ठंड लोगों को परेशान करेगी।

प्रदूषण बढ़ा, फिर लगीं पाबंदियांदिल्ली-NCR में तेजी से बढ़ रहे प्रदूषण को देखते हुए कमिशन फॉर एयर क्वालिटी एंड मैनेजमेंट ने शुक्रवार को ग्रैप का तीसरा चरण लागू कर दिया है। इसके तहत अब यहां निजी निर्माण नहीं हो सकेंगे। NCR से जुड़ी राज्य सरकारों को डीजल की BS-4 और पेट्रोल की BS-3 गाड़ियों पर रोक लगाने की सलाह दी गई है। वहीं, दिल्ली-NCR में फिर सर्दी के तेवर तल्ख होंगे। तापमान में भारी गिरावट होगी और न्यू ईयर पर जनवरी के पहले हफ्ते में लगातार कई दिनों तक शीतलहर का प्रकोप बना रह सकता है। 31 दिसंबर और 1 जनवरी को घना कोहरा भी रहेगा।

परेशान कर सकता है स्मॉगआने वाले दिनों में लोगों को इस साल का दूसरा स्मॉग एपीसोड झेलना पड़ सकता है। मौसम विभाग के अनुसार एक जनवरी तक प्रदूषण गंभीर स्थिति में बना रहेगा। स्मॉग की चादर लोगों को अधिक परेशान करेगी। शनिवार व रविवार को घना कोहरा भी रहेगा। ऐसे में स्मॉग की मोटी परत राजधानी पर तन सकती है। इस सीजन की बात करें तो इस बार स्मॉग एपीसोड के मामले में लोगों को राहत रही है। जब प्रदूषण लगातार दो या इससे अधिक दिनों तक गंभीर स्थिति में बना रहे तो उसे ‘स्मॉग एपीसोड’ कहते हैं। इस बार ऐसा नहीं हुआ। इस सर्दियों में राजधानी में पहली बार प्रदूषण एक नवंबर को गंभीर स्तर पर पहुंचा। उस दिन प्रदूषण स्तर 424 रहा। इसके बाद 3 और 4 नवंबर को प्रदूषण गंभीर स्तर पर रहा। उक्त दोनों दिन एक्यूआई 450 और 447 रहा। इसके बाद 4 दिसंबर को एक्यूआई 407, 19 दिसंबर को 410 रहा।

आईआईटीएम पुणे के अनुसार 31 दिसंबर और 1 जनवरी 2023 को प्रदूषण गंभीर स्तर पर रहेगा। इसके बाद 2 जनवरी को यह बेहद खराब स्तर पर आ सकता है। इसके बाद अगले छह दिनों तक प्रदूषण बेहद खराब स्तर पर बना रहेगा। शुक्रवार को हवाओं की गति 8 से 16 किलोमीटर प्रति घंटे की रही। 31 दिसंबर को घना कोहरा भी रहेगा और हवाओं की गति में भी सुधार नहीं होगा। इसके बाद एक जनवरी को हवाओं की गति महज 4 से 6 किलोमीटर प्रति घंटे के आसपास रह सकती है। इससे प्रदूषण में और थोड़ा इजाफा हो सकता है। सफर के पूर्वानुमान के अनुसार एक जनवरी को हवाओं की स्पीड काफी कमजोर रहेगी। ऐसे में यदि सख्त कदम नहीं उठाए गए तो प्रदूषण काफी परेशान कर सकता है।