भारत में बढ़ रहा कोरोना का खतरा, सामने आए 3000 से अधिक मामले, Delhi Government ने एहतियात के लिए बुलाई बैठक

दिल्ली में इन दिनों कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। बीते दिनों लगातार कोरोना के कई मामले देखने को मिल रहे है। दिल्ली में कोरोना के बढ़ते साए को देखते हुए दिल्ली की केजरीवाल सरकार एक्शन मोड में आ गई है। इसे लेकर अब स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है, जिसमें डॉक्टर्स और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ कोरोना के हालत पर चर्चा की जाएगी। संभावना है की इस बैठक में स्वास्थ्य विभाग के विशेष सचिव, डायरेक्टर जेनरल हेल्थ सर्विसेज, ऑक्सीजन और टेस्टिंग के नोडल ऑफिसर और एलएनजेपी सहित कई अस्पतालों के मेडिकल डायरेक्टर शामिल हो सकते है।भारत में बढ़ रहे कोरोना के मामलेभारत में एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 3,016 नए मामले आने के बाद देश में अभी तक संक्रमित हुए लोगों की संख्या बढ़कर 4,47,12,692 हो गई है। पिछले छह महीने में सामने आए ये सर्वाधिक दैनिक मामले हैं। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या बढ़कर 13,509 पर पहुंच गई है। इससे पहले, पिछले साल दो अक्टूबर को 3,375 दैनिक मामले सामने आए थे। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बृहस्पतिवार सुबह आठ बजे जारी अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, महाराष्ट्र में संक्रमण से तीन, दिल्ली में दो और हिमाचल प्रदेश में एक मरीज की मौत के बाद देश में मृतक संख्या बढ़कर 5,30,862 हो गई। वहीं, संक्रमण से मौत के आंकड़ों का पुन:मिलान करते हुए केरल ने वैश्विक महामारी से जान गंवाने वाले मरीजों की सूची में आठ नाम और जोड़े हैं। भारत में संक्रमण की दैनिक दर 2.73 प्रतिशत और साप्ताहिक दर 1.71 प्रतिशत है। अद्यतन आंकड़ों के मुताबिक, देश में अभी 13,509 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 0.03 प्रतिशत है। वहीं, मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.78 प्रतिशत है। अभी तक कुल 4,41,68,321 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं, जबकि कोविड-19 से मृत्यु दर 1.19 प्रतिशत है। स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार, भारत में राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की 220.65 करोड़ खुराक लगाई जा चुकी हैं। गौरतलब है कि भारत में सात अगस्त 2020 को कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त 2020 को 30 लाख और पांच सितंबर 2020 को 40 लाख से अधिक हो गई थी। संक्रमण के कुल मामले 16 सितंबर 2020 को 50 लाख, 28 सितंबर 2020 को 60 लाख, 11 अक्टूबर 2020 को 70 लाख, 29 अक्टूबर 2020 को 80 लाख और 20 नवंबर को 90 लाख के पार चले गए थे। देश में 19 दिसंबर 2020 को ये मामले एक करोड़ से अधिक हो गए थे। चार मई 2021 को संक्रमितों की संख्या दो करोड़ और 23 जून 2021 को तीन करोड़ के पार पहुंच गई थी। पिछले साल 25 जनवरी को संक्रमण के कुल मामले चार करोड़ के पार चले गए थे।