दामाद गिड़गिड़ाता रहा लेकिन ससुर, साले ने युवा जोड़े और उनकी दो साल की बेटी की हत्या कर दी

बिहार के भागलपुर जिले में गोपालपुर थानाक्षेत्र के नवटोलिया गांव में मंगलवार को एक युवा जोड़े और उनकी दो साल की बेटी की महिला के पिता और भाई ने कथित रूप से हत्या कर दी। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी।
पुलिस अधीक्षक सुशांत कुमार सरोज ने बुधवार को बताया कि मृतकों में चांदनी कुमारी, उसके पति चंदन कुमार और उनकी दो साल की बेटी रौशनी कुमारी शामिल हैं।
उन्होंने कहा कि पप्पू सिंह और उसके पुत्र धीरज कुमार सिंह यह जघण्य अपराध करने के बाद गांव से फरार हो गए और अब उनकी गिरफ्तारी के लिए प्रयास जारी है।
पुलिस अधीक्षक ने पप्पू और धीरज को चांदनी द्वारा अपने से करीब 15 साल बड़े चंदन से शादी कर लेने पर बड़ा एतराज था। चंदन भी इसी गांव का रहने वाला था।
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार जब पप्पू चंदन एवं उसकी पत्नी तथा पुत्री को लोहे की छड़ से मार रहा था, तो उसने दया की भीख मांगी। उनके मुताबिक लोह की छड़ से सिर पर जोरदार प्रहार से चांदनी की मौत हो गई जबकि चंदन और उनकी दो साल की बेटी रौशनी की आरोपियों ने गोली मारकर हत्या कर दी।
पुलिस ने घटनास्थल से पांच खोखा बरामद किये हैं जिन्हें फोरेंसिक जांच के लिए भेजा गया है।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि फोरेंसिक विशेषज्ञों ने घटनास्थल का निरीक्षण किया है और आगे की जांच के लिए सभी वैज्ञानिक साक्ष्य एकत्र किए गए हैं।
उन्होंने कहा, ‘‘हम जल्द ही आरोपियों को पकड़ लेंगे और हत्या में इस्तेमाल किए गए पिस्तौल को बरामद कर लेंगे।’’
पुलिस अधीक्षक ने कहा कि अपराध को अंजाम देने में आरोपियों द्वारा इस्तेमाल की गई लोहे की छड़ पहले ही बरामद कर ली गई है।
उन्होंने कहा कि जांचकर्ता आरोपियों के ठिकाने के बारे में जानने के लिए उनके परिवार के सदस्यों के भी संपर्क में हैं।
पप्पू और धीरज ने इस वारदात को मंगलवार शाम करीब चार बजकर 25 मिनट सरेआम तब अंजाम दिया जब तीनों अपने घर नवटोलिया गांव लौट रहे थे।
पप्पू ने उनपर नजर पड़ते ही पहले उन्हें रोका और लोहे की छड़ से उन्हें मारने लगा।
वरिष्ठ पुलिस अधिकारी फॉरेंसिक विशेषज्ञों के साथ मौके पर पहुंचे और शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया।