कॉलगर्ल का मर्डर, गुड़िया में लाश की खोपड़ी और फिर… जब अचानक अदालत में जलने-बुझने लगी थी बत्तियां!

कई मर्डर मिस्ट्री के बारे में आपने सुना होगा, लेकिन ये केस बेहद अजीब था। अदालत में केस की सुनवाई हो रही थी। आरोपियों को कटघरे में खड़ा किया गया था। वहां एक 14 साल की लड़की भी थी जिसकी गवाही पर मर्डर का ये पूरा केस टिका हुआ था। बचाव पक्ष के वकील ये साबित करने की कोशिश कर रहे थे कि कत्ल आरोपियों ने नहीं किया। वो जैसे ही बोलते कत्ल आरोपियों ने नहीं किया अदालत की सारी बत्तियां जलने- बुझने लगती। जज को अदालत में बैठी महिलाओं में उस लड़की की शक्ल दिखने लगी जिसके मर्डर की सुनवाई कोर्ट में चल रही थी। दुनिया का सबसे खौफनाक मर्डर केसइस सनसनीखेज मर्डर केस में जज ने क्या फैसला दिया ये हम आपको बताएंगे उससे पहले जान लीजिए ये खौफनाक कहानी क्या है। पुलिस को खबर मिलती है कि एक घर के अंदर एक कॉल गर्ल को तड़पा-तड़पा कर मार दिया गया है। पुलिस जब उस घर में पहुंचती है तो देखती है एक कमरे में कई सारी गुड़ियाएं हैंऔर इन सबके बीच एक काफी बड़ी साइज की गुड़िया भी रखी हुई है जिसका नाम हैली किटी है। बिल्कुल वैसा ही घर जैसा पुलिस को बताया गया था। महीनों तक उस लड़की को इस घर के अंदर कैद किया गया। उसके हाथ पैर बांध दिए गए। रोज दर्जनों लोग आते और उसका बलात्कार करते। उसके साथ मारपीट की जाती। उसके सिर को पंचिग बैग बनाकर पंच किया जाता। एक दो नहीं पचासों पंच। उसे खाने में मल-मूत्र दिया जाता। वो खूबसूरत कॉलगर्ल कुछ समय बाद सूख कर काटा हो गई महीनों तक ये सिलसिला ऐसे ही चलता रहा और फिर एक दिन उसकी मौत हो गई। कॉलगर्ल के किए गए टुकड़े-टुकड़ेलड़की के कत्ल के बाद उसके शरीर को बाथटब में डालकर शरीर के टुकड़े-टुकड़े किए गए। उसके बाद लाश के टुकड़ों को अलग-अलग बर्तनों में रखकर पानी में उबाला गया। उसकी खोपड़ी को धड़ से अलग कर दिया गया। एक बर्तन में खोपड़ी को भी उबाला गया। लड़की के उबले हुए लाश के टुकड़ों को पॉलीथिन में भरकर कूड़े में फेंक दिया गया। घर में अब सिर्फ खोपड़ी पड़ी थी। बाजार से एक बड़ी डॉल लाई गई। ये वही डॉल थी जो पुलिस को कमरे में दिख रही थी। इस डॉल के सिर की सिलाई को खोला गया और फिर कॉल गर्ल की उबली हुई खोपड़ी को इस डॉल के अंदर भर दिया गया। कातिलों को लगा कि कहानी खत्म,लेकिन ऐसा नहीं था। ‘मुझे लड़की का भूत दिखता है’दुनिया के की लिस्ट में शामिल ये मर्डर हॉन्ग कॉन्ग में 1997 में हुआ था। लड़की जिसका कत्ल हुआ उसका नाम था फैन मैन यी। कहते हैं कत्ल के बाद फैन मैन ने खुद ही अपने कत्ल के राज पुलिस तक पहुंचाए थे और वो भी एक 14 साल की लड़की के जरिए। कत्ल के करीब 2 साल बाद यानी साल 1999 में एक लड़की कुछ दिनों से रोज पुलिस स्टेशन के चक्कर काट रही थी। उसने पुलिसवालों को बताया कि उसे एक आत्मा दिखती है। एक लड़की की आत्मा जो उससे मदद मांग रही है। लड़की ने पुलिसवालों को बताया कि वो आत्मा बिजली के तारों से बंधी हुई है और एक घर में कैद है। उसके शरीर में चोट के निशान हैं। हैलो किटी डॉल के अंदर रखी गई खोपड़ीपहले तो पुलिस ने लड़की की बात पर यकीन नहीं किया, लेकिन जब लड़की कई दिनों तक पुलिस के चक्कर काटती रही तो पुलिस की टीम उस घर में जाने को तैयार हो गए। ये घर हॉन्ग-कॉन्ग के कोऊलून जिले के एक अपार्टमेंट में था। पुलिस इस घर में पहुंच गई। गुड़ियाओं से भरे इस रूम को देखकर पुलिस भी हैरान थी। सभी गुड़ियाओं को इधर-उधर कर तलाशी शुरू हुई। जब बड़ी गुड़िया को हिलाया गया तो हर कोई चौंक गया उसका वजन काफी ज्यादा था। पुलिस ने गुड़िया फाड़कर अंदर चेक किया तो देखा कि गुड़िया के अंदर एक उबली हुई खोपड़ी पड़ी थी। ड्रग डीलर ने दी थी तड़पा-तड़पाकर मौतइसके बाद इस केस की तफ्तीश शुरू हो गई। 14 साल की लड़की इस केस की सबसे अहम गवाह थी। कौन थी ये 14 साल की लड़की और फैन मैन की आत्मा ने क्यों इस लड़की से मदद मांगी थी या फिर सच्चाई कुछ और भी थी। पुलिस ने जब लड़की से सारी सच्चाई जाननी चाही तो उसने बताया कि कैसे चॉन मैन लोक नाम के एक ड्रग डीलर ने तड़पा-तड़पाकर फैन मैन को मौत दी थी। कई दिनों तक लड़की के साथ हुआ अत्याचारफैन मैन एक अनाथ लड़की थी। जब वो बड़ी हुई थी कॉलगर्ल बन गई। इसी दौरान उसकी दोस्ती इस ड्रग डीलर से हुई। एक रात इस कॉलगर्ल ने उस ड्रग डीलर के पर्स से कुछ रुपये चुरा लिए जिसकी सजा के रूप इस ड्रग डिलर ने लड़की को इस अपार्टमेंट में कैद कर लिया और फिर रोज अपने दोस्तों को बुलाकार लड़की के साथ अत्याचार करने लगा। ये ड्रग डीलर और उसके दोस्त पंचिग बैग की तरह लड़की के सिर को पीटते थे। उसके साथ रोज रेप किया जाता था। एक बार ये ड्रग डीलर 14 साल इस लड़की को भी इस घर में लेकर आया था। दरअसल ये लड़की भी जिस्म फरोशी का धंधा करती थी। ड्रग डीलर के कहने पर 14 साल की इस लड़की ने भी फोन मैन को कई पंच मारे थे और बाद में लड़की को पता चला था कि फोन मैन की मौत हो गई है। 14 साल की लड़की से आत्मा ने मांगी मदद!इस लड़की के मुताबिक मौत के 2 साल बाद फोन मैन की आत्मा इस लड़की के सपनों में आने लगी और मदद मांगने लगी और फिर इसने फैसला किया पुलिस को सबकुछ बताने का। ड्रग डीलर समेत उसके सभी दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया गया। उनकी हैवानियत की कहानी अब जग जाहिर हो चुकी थी। कहते हैं इस केस में जब हैलो किटी डॉल को अदालत में सबूतों को रूप में पेश किया गया तो उसमें से बदबू आने लगी, जबकि लैब में ऐसा नहीं था। सुनवाई के दौरान हुई अजीब घटनाएंखुद जज ने माना कि फैन मैन की आत्मा सुनवाई के दौरान अदालत में मौजूद थी और अपने होने के अहसास दिला रही थी। हॉन्ग-कॉन्ग के इतिहास में ये सबसे खौफनाक मर्डर था। जज ने सभी आरोपियों को उम्र कैद की सजा सुनाई। जब फैन मैन के मर्डर के बाद ड्रग डीलर ने उस अपार्टमेंट के फ्लैट को किराए पर दिया तो जो लोग उस घर में रहने आए उन्हें भी फैन मैन की आत्मा दिखने लगी। इस घर में कई किराएदार आए, लेकिन एक भी नहीं टिक पाया। उसके बाद ड्रग डीलर ने घर में कई सारी डॉल्स रखकर घर को हमेशा के लिए बंद कर दिया, लेकिन बावजूद इसकी हकीकत सामने आ ही गई।