कश्मीर में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की सुरक्षा अचानक की गई कम, राहुल के सुरक्षा घेरे में घुसे कई लोग, कांग्रेस ने उठाए सवाल

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा को जम्मू-कश्मीर के बनिहाल में रोकना पड़ा। राहुल गांधी की सुरक्षा घेरे में कई लोग घुस आए थे। जिसकी वजह से यात्रा को रोकना पड़ा। कांग्रेस का आरोप है कि यात्रा में सुरक्षा नहीं दी जा रही है। कांग्रेस ने कहा कि जब तक हमें सुरक्षा नहीं मिलती, यात्रा का आगे बढ़ना खतरे से खाली नहीं है। इसलिए यात्रा को रोकना पड़ा। कांग्रेस ने ट्वीट कर पूछा कि, “सुरक्षा की इतनी बड़ी चूक यात्रा के 133 दिनों में नहीं हुई। रस्से कांग्रेस के कार्यकर्ता खींच रहे हैं, कहां है जम्मू कश्मीर की पुलिस? जम्मू कश्मीर में केंद्र का शासन है, इस चूक की ज़िम्मेदारी किसकी? आख़िर राहुल गांधी की सुरक्षा में इतनी बड़ी चूक कैसे हुई?”यह वीडियो देखिए सुरक्षा की इतनी बड़ी चूक यात्रा के 133 दिनों में नहीं हुई।रस्से कांग्रेस के कार्यकर्ता खींच रहे हैं, कहां है जम्मू कश्मीर की पुलिस?जम्मू कश्मीर में केंद्र का शासन है, इस चूक की ज़िम्मेदारी किसकी?आख़िर राहुल गांधी की सुरक्षा में इतनी बड़ी चूक कैसे हुई? pic.twitter.com/tkm8WQSAyr— Congress (@INCIndia) January 27, 2023

इस घटना के बाद राहुल गांधी को अनंतनाग ले जाया गया, जहां उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस किया है। राहुल ने बताया कि पुलिस के इंतजाम पूरी तरह नाकाम थी। मेरे सुरक्षा में लगे लोगों तक का आगे बढ़ना मुश्किल था, इसलिए मैंने आगे की यात्रा कैंसिल कर दी। राहुल ने कहा कि आज सुबह भारत जोड़ो यात्र चल रही थी। भीड़ काफी थी। जिन पुलिस कर्मियों को भीड़ को काबू करना था, वह नहीं दिख रहे थे। ऐसे में जो मेरी सुरक्षा में सुरक्षा कर्मी लगे हुए थे वह बहुत असहज हो गए। ऐसे में हमें अपनी पदयात्रा को रद्द करना पड़ा।बता दें कि पदयात्रा शुक्रवार सुबह 9 बजे बनिहाल से शुरू हुई थी। यात्रा रामबन से अनंतनाग जानी थी, लेकिन काजीगुंड में एंट्री के सिर्फ 1 किमी बाद यात्रा को रोक दिया गया। शुक्रवार सुबह इस पदयात्रा में नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला शामिल हुए थे।कांग्रेस के वरिष्ठ नेता केसी वेणुगोपाल ने ट्वीट कर कहा, “डी-क्षेत्र से सुरक्षाकर्मियों की अचानक वापसी से कश्मीर के बनिहाल में भारत जोड़ो यात्रा में गंभीर सुरक्षा उल्लंघन हुआ है। यह किसने आदेश दिया? जिम्मेदार अधिकारियों को इस चूक के लिए जवाब देना चाहिए और भविष्य में ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए उचित कदम उठाने चाहिए।”The sudden withdrawal of security personnel from the D-area has caused a serious security breach at the #BharatJodoYatra at Banihal, Kashmir.Who ordered this?The authorities responsible must answer for this lapse & take appropriate steps to prevent such incidents in future.— K C Venugopal (@kcvenugopalmp) January 27, 2023

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख की कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल ने कहा कि जम्मू-कश्मीर प्रशासन राहुल गांधी के नेतृत्व वाली भारत जोड़ो यात्रा को सुरक्षा प्रदान करने में विफल रहा है। सुरक्षा चूक केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन के अनुचित और अप्रस्तुत रवैये का संकेत देती है।