बादाम 680 तो पिस्ता के 3800 रुपये प्रति किलो पहुंचे भाव, जानिए क्यों आसमान पर पहुंची ड्राई फ्रूट्स की कीमतें

नई दिल्ली: दिल्ली में कंपकंपाती ठंड और शादियों के सीजन को देखते हुए बाजारों में की डिमांड बढ़ गई है। डिमांड के हिसाब से इसकी सप्लाई कम हो रही है। इसकी वजह से करीब दो महीने में पिस्ते की कीमत दोगुनी हो गई है। व्यापारियों का दावा है कि शादियों में ज्यादातर लोग मिठाई बनवाने में पिस्ता और बादाम का इस्तेमाल करते हैं। ऐसे लोगों को महंगाई की मार झेलनी पड़ सकती है। दिल्ली में कड़ाके की ठंड की वजह से खारी बावली में ड्राई फ्रूट्स की डिमांड हाई है। पिछले साल की तुलना में 10 से 15 फीसदी मार्केट बढ़ गया है। इंटरनेशनल फ्रूट्स एंड नट्स ऑर्गनाइजेशन के डायरेक्टर रविंद्र मेहता बताते हैं कि ठंड के दिनों में सभी ड्राई फ्रूट्स की डिमांड बढ़ जाती है। पिछले साल की अपेक्षा इस साल मार्केट काफी अच्छा है। कम आ रही सप्लाई इस बार पिस्ता की नई क्रॉप काफी कम है। इसकी वजह से अफगानिस्तान से पिस्ता की सप्लाई कम आ रही है। नतीजतन, अक्टूबर में 1500 से 1700 के बीच बिकने वाले पिस्ता की कीमत जनवरी में 3300 से 3800 रुपये प्रतिकिलो हो गई है। पिछले दो महीने के अंदर बादाम की कीमत में भी प्रतिकिलो 40 रुपये की बढ़ोतरी हुई है। राहत की बात यह है कि किशमिश, काजू, अंजीर और अखरोट के दाम में कोई खास बढ़ोतरी नहीं है। खारी बावली के एक व्यापारी ने बताया कि शादी का सीजन शुरू होने वाला है। इससे पहले मिठाई बनाने के लिए ड्राई फ्रूट्स का ऑर्डर आने लगा है। रेट हाई होने के चलते ज्यादातर मिठाई कारोबारी पिस्ता खरीदने में कटौती भी कर रहे हैं। दो गुने से ज्यादा बढ़ी कीमतें थोक मार्केट में पिस्ता 3300 से 3800 रुपये प्रति किलो, बादाम 650 से 680 रुपये प्रति किलो, काजू 600 से 650 रुपये प्रतिकिलो, अखरोट 900 से 950 रुपये प्रति किलो, अंजीर 500 से 1500 रुपये प्रति किलो और किशमिश 150 से 250 रुपये प्रति किलो है।