राष्ट्रपति दे रहीं थीं भाषण, तभी गुल हो गई बिजली, 9 मिनट तक रहा अंधेरा, फिर भी जारी रखा अपना संबोधन

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू अपने गृह राज्य ओडिशा के दौरे पर हैं। ओडिशा के बारीपदा में आज वह महाराजा श्री रामचंद्र भंजदेव विश्वविद्यालय के 12वें दीक्षांत समारोह में शामिल हुई। हालांकि, इस समारोह में एक ऐसी घटना हुई जिसकी अब खूब चर्चा हो रही है। दरअसल, दीक्षांत समारोह के दौरान 9 मिनट तक बिजली गुल रहीं। यह तब हुआ जब राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने अपना संबोधन शुरू ही हुआ था। लगभग 9 मिनट तक बिजली गायब रही। यह बाधा सुबह 11.56 बजे से दोपहर 12.05 बजे तक उत्पन्न हुई। लेकिन उन्होंने अपना संबोधन जारी रखा क्योंकि माइक सिस्टम भी अप्रभावित रहा। बिजली लुका-छिपी खेल रही है,” मुर्मू, जो अपनी मातृभाषा, ओडिया में बोल रही थी, को यह कहते हुए सुना गया। इस दौरान वातानुकूलित प्रणाली भी सामान्य रूप से काम करती रही। वहां मौजूद बड़ी संख्या में दर्शक उन्हें सुनने के लिए धैर्यपूर्वक बैठे रहे। बताया जा रहा है कि वहां कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था। टाटा पावर की कंपनी नॉर्थ ओडिशा पावर डिस्ट्रीब्यूशन लिमिटेड के सीईओ भास्कर सरकार ने कहा कि हॉल (कार्यक्रम स्थल) में कोई आपूर्ति व्यवधान नहीं था और गड़बड़ी शायद बिजली के तारों में कुछ खराबी के कारण हुई थी। विश्वविद्यालय के कुलपति संतोष कुमार त्रिपाठी ने राष्ट्रपति के संबोधन के दौरान बिजली के गुल होने को लेकर खेद जताया और माफी मांगी। मुर्मू, भारत की दूसरी महिला राष्ट्रपति (प्रतिभा पाटिल के बाद), पिछले साल जुलाई में देश के सर्वोच्च संवैधानिक कार्यालय के लिए चुनी गईं। वह राम नाथ कोविंद के उत्तराधिकारी हैं।VIDEO | President Droupadi Murmu continued her speech during the power outage at MSCB University in Mayurbhanj’s Baripada. pic.twitter.com/NSchUHbCzG— Press Trust of India (@PTI_News) May 6, 2023