अलीगढ़ में फिर होली से पहले तिरपाल से ढकी गई मस्जिद, उपद्रियों के खौफ से योगी राज में शुरू हुई परंपरा

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में एक बार फिर होली के त्योहार से पहले शहर की प्रमुख हलवाईयां मस्जिद समेत 6 मस्जिदों को तिरपाल से ढक दिया गया है, ताकि होली के दौरान कोई उपद्रवी मस्जिद पर रंग न लगा सके या कोई गंदगी न फेंक सके, जिससे शहर का माहौल खराब हो। यह प्रथा योगी सरकार के आने के बाद से शुरू हुई है।पिछले कुछ वर्षों से अलीगढ़ पुलिस-प्रशासन ने होली पर शांति-व्यवस्था बनाए रखने के लिए यह तरकीब निकाली है। प्रशासन के निर्देश पर हर साल अलीगढ़ के सबसे संवेदनशील चौराहे ‘हलवाईयां’ की अब्दुल करीम मस्जिद को रात में तिरपाल से ढक दिया जाता है ताकि होली के दौरान उपद्रवी मस्जिद पर रंग न लगा दें।’हलवाईयां’ की अब्दुल करीम मस्जिद के मुतवल्ली हाजी मोहम्मद इकबाल ने इस बारे में बताया कि प्रशासन के निर्देश पर हम मस्जिद को तिरपाल से ढक देते हैं ताकि कोई भी मस्जिद में रंग या गंदगी न फेंके। उन्होंने कहा कि जब से उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार सत्ता में आई है, तब से होली के दौरान मस्जिद को ढका जा रहा है।खबर के मुताबिक इस बार छह मस्जिदों को तिरपाल से ढका गया है। ये मस्जिदें थाना देहली गेट, बन्ना देवी और थाना कोतवाली इलाकों में हैं। इस मामले में प्रशासन का कहना है कि इलाके में शांति बनाए रखने के उद्देश्य से ऐसा किया गया है। पुलिस के अनुसार होली को बदरंग होने से बचाने के लिए पुलिस विशेष सतर्कता बरत रही है। जिले में 67 स्थानों को अतिसंदेवनशील और 105 स्थानों को संवेदनशील माना गया है। इन इलाकों में ड्रोन से निगरानी रखी जा रही है। पुलिस सोशल मीडिया पर भी नजर रख रही है।