शख्स जिसके एक झूठ से डूब गया अमेरिका का मजबूत बैंक, दुनियाभर में हाहाकार

नई दिल्ली: अमेरिका का बड़ा बैंक सिलिकॉन वैली (Silicon Valley) दिवालिया हो गया है। बैंक अमेरिका का डूबा है, लेकिन चर्चा दुनियाभर में हो रही है। जिस बैंक के बारे में एक हफ्ते पहले तक अधिकांश लोग जानते तक नहीं थे, आज उसे लेकर हाहाकार मचा है। इस बैंक के बंद होने से ना केवल अमेरिकी की बैंकिंग सेक्टर की हालात खराब हो गई है बल्कि दुनियाभर में मंदी का खतरा मंडराने लगा है। इस बड़े बैंक की हालात ऐसी हो गई है रेगुलेटरी को उसे बंद करना पड़ा। अमेरिकी बैंकिंग सेक्टर में उठे इस तूफान का असर भारत पर भी पड़ना तय है। ऐसे में उस शख्स के बारे में जानना भी जरूरी है, जिसके हाथों में इस बैंक की कमान थीं। ग्रेग बेकर की बढ़ी मुश्किलें के डूबने का दर्द अभी कम भी नहीं हुआ था कि कंपनी के सीईओ ग्रेग बेकर (Greg Becker) को एक और बड़ा झटका लगा। कंपनी के शरहोल्डर्स ने सिलिकॉन वैली बैंक के पैरेंट SVB फाइनेंशियल ग्रुप और इसके सीईओ ग्रेग बेकर के खिलाफ मुकादमा दर्ज किया गया है। उनपर जानकारी छिपाने, बैंक की वेल्थ से जुड़ी डिटेल शेयरधारकों, ग्राहकों से छिपाने का आरोप लगा है। उनपर शेयरधारकों ने धोखा देने का आरोप लगा है। उनपर आरोप लगे हैं कि बैंक के दिवालिया होने से ठीक पहले ग्रेग ने 36 लाख डॉलर के शेयर बेच दिए। ग्रेग बेकर पर आरोप लग रहे हैं कि उनके खराब फैसलों और उनकी गलती की वजह से बैंक पर ताला लग गया । 24 घंटे में बेकर ने दिया था भरोसा साल 1993 में ग्रेग बेकर ने SVB की कमान संभाली थी। सीवीबी बैंक ने पहले बेकर ने डॉटकॉम बबल की कमान संभाली थी। साल 2011 में उन्हें सीवीबी फाइनेंशियल ग्रुप का सीईओ बनाया गया था। सिलिकॉन वैली संकट को लेकर उन्होंने 24 घंटे पहले कहा था कि सब ठीक है। लोगों का पैसा सुरक्षित है, लेकिन 24 घंटे बाद स्थिति पूरी तरह से पलट गई। जनवरी में भी बेकर ने भरोसा दिलाया था कि बैंक की स्थिति ठीक है और लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। अब उनपर जानकारी छिपाने का आरोप लग रहा है। ग्राहक और निवेशक ही नहीं बैंक के कर्मचारी भी ग्रेग के फैसलों से नाराज हैं। ब्रेकर कौन हैंग्रेग का जन्म 1971 में अमेरिका में हुआ। उन्होंने इंडियाना यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की है। ग्रेग के करियर की बात करें तो साल 1993 में वो बतौर बैंकर सीवीबी बैंक से जुड़े। मई 1993 में उन्हें COO नियुक्त कर दिया गया। साल 2008 में उन्हें सिलिकॉन वैली बैंक और सिलिकॉन फाइनेंशिल ग्रुप का प्रेसिडेंट बनाया गया। साल 2011 में उन्हें सिलिकॉन वाली बैंक और SVB का सीईओ नियुक्त कर दिया गया। बेकर को साइकिल चलाने, किताबे पढ़ने का शौक है। अगर नेटवर्थ देखें तो 27 फरवरी 2023 के मुताबिक ग्रेग बेकर का नेटवर्थ 38.2 करोड़ डॉलर है। 19 सालों में बेकर ने SIVBP के 25,356607 डॉलर के शेयर बेचे हैं। जबकि उनके पास अभी भी 12,451 शेयर हैं, जिसकी कीमत करीब 2,118,961 डॉलर है। बतौर प्रेसिडेट बेकर 10,677,500 डॉलर की कमाई करते हैं।