स्टेज पर लोहे के पिंजरे से ले रहे थे हवाई एंट्री तभी हो गया हादसा, अमेरिकी कंपनी के भारतीय सीईओ की मौत

हैदराबाद: अमेरिका स्थित एक बहुराष्ट्रीय सॉफ्टवेयर कंपनी के भारतीय सीईओ और संस्थापक की गुरुवार रात रामोजी फिल्म सिटी (आरएफसी) में एक कॉर्पोरेट कार्यक्रम के दौरान लोहे के पिंजरे के ढह जाने से मौत हो गई। वहीं कंपनी के अध्यक्ष गंभीर रूप से घायल हो गए। यह दुर्घटना विस्टेक्स एशिया-पैसिफिक प्राइवेट लिमिटेड के रजत जयंती समारोह के दौरान हुई। 56 साल के सीईओ संजय शाह की हैदराबाद के एक अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई, जबकि कंपनी के अध्यक्ष विश्वनाथ राजू दतला अपने जीवन और मौत के बीच जूझ रहे हैं।दरअसल विस्टेक्स की ओर से रामोजी फिल्म सिटी में अपने कर्मचारियों के लिए कमरे बुक किए गए थे और दो दिनों का रजत जयंती समारोह आयोजित किया जा रहा था। कंपनी के एक अधिकारी ने कहा कि शाह और राजू को पिंजरे से मंच पर उतारा जाना जश्न शुरू करने के लिए एक योजनाबद्ध कार्यक्रम था। दुर्घटना शाम 7.40 बजे तब हुई जब शाह और राजू को लोहे के पिंजरे में ऊंचाई से नीचे मंच पर लाया जा रहा था। कैसे हुआ हादसा?अब्दुल्लापुरमेट पुलिस स्टेशन के सब इंस्पेक्टर डी करुणाकर रेड्डी ने बताया कि दुर्घटना के समय म्यूजिक बजाया जा रहा था और शाह और राजू नीचे उतरते समय अपने कर्मचारियों की ओर हाथ हिला रहे थे। इस दौरान अचानक पिंजरे से जुड़े दो तारों में से एक टूट गया। इससे दोनों 15 फीट से अधिक ऊंचाई से नीचे गिरे और कंक्रीट के मंच पर जा गिरे। इससे दोनों को काफी चोटें आईं। पुलिस ने दर्ज किया केस पुलिस ने बताया कि दोनों को एक स्थानीय अस्पताल ले जाया गया और बाद में उनकी हालत बिगड़ने पर एक कॉर्पोरेट अस्पताल में भर्ती कराया गया। कुछ समय बाद शाह की मृत्यु हो गई। पुलिस ने बताया कि कंपनी के एक अन्य अधिकारी की शिकायत पर फिल्म सिटी कार्यक्रम प्रबंधन अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।ये धाराएं लगाईं रिपोर्ट में आईपीसी की धारा 304ए (जल्दबाजी या लापरवाही से काम करके मौत का कारण बनना) और 336 (मानव जीवन या दूसरों की व्यक्तिगत सुरक्षा को खतरे में डालना) की धारा लगाई है। जिन लोगों पर मामला दर्ज किया गया उनमें आरएफसी प्रबंधन, इसके वरिष्ठ इवेंट मैनेजर, मुख्य प्रबंधक (सुरक्षा), विशेष प्रभावों के ठेकेदार और रस्सी ऑपरेटर शामिल हैं।