गैंगस्टर दीपक टीनू को भगाने में साथ देने वाली गर्लफ्रेंड मुंबई से गिरफ्तार, भागने वाली थी मालदीव

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की साजिश में शामिल गैंगस्टर दीपक टीनू अब भी पंजाब पुलिस की गिरफ्त से बाहर है. वहीं, उसकी गर्लफ्रेंड भी मालदिव भागने की फिराक में थी लेकिन पंजाब पुलिस ने रविवार को उसे मुंबई एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया. पुलिस का कहना है कि दीपक टीनू को पुलिस कस्टडी से भगाने में गैंगस्टर की प्रेमिका का ही हाथ है. खुफिया इनपुट के आधार पर उसकी गर्लफ्रेंड को पकड़ा गया है, जब वह मालदीव भागने वाली थी. पंजाब के पुलिस महानिदेशक गौरव यादव ने रविवार को बताया कि एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स (AGTF) की एक टीम ने टीनू की महिला साथी को पकड़ लिया, जो मालदीव भागने की कोशिश कर रही थी.
उन्होंने बताया कि पुलिस हिरासत से टीनू जब फरार हुआ था, उसके बाद से ही वह उसके साथ थी. पंजाब पुलिस का दावा है कि गैंगस्टर दीपक टीनू को गिरफ्तार करने की भी पूरी कोशिश की जा रही है. मगर उसने अभी तक इस बात का खुलासा नहीं किया है कि क्या गैंगस्टर दीपक टीनू भारत में है या वह देश से फरार होने में कामयाब हो गया? इस एंगल पर भी तफ्तीश जारी है कि क्या दीपक टीनू भी मालदीव में छिपा है? दीपक टीनू जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई का सहयोगी है. पिछले हफ्ते वह मानसा जिले में पुलिस गिरफ्त से फरार हो गया था.

Major breakthrough in Deepak Tinu custody escape, #AGTF @PunjabPoliceInd arrested woman accomplice of Tinu from #MumbaiAirport in an intelligence-based ops. She was with criminal when he escaped & was on way to #Maldives when nabbed. Further #investigations to nab Tinu underway pic.twitter.com/R30OAGdDqi
— DGP Punjab Police (@DGPPunjabPolice) October 9, 2022

मानसा पुलिस टीनू को कपूरथला जेल से रिमांड पर लाई थी. उसी वक्त वो वहां से फरार हो गया. मूसेवाला मर्डर केस की प्लानिंग में आखिरी कॉन्फ्रेंस कॉल लॉरेन्स बिश्नोई और टीनू के बीच 27 मई को हुई थी. इसके बाद 29 मई को मूसेवाला की हत्या कर दी गई. बड़ी मुश्किल से ये गैंगस्टर पुलिस गिरफ्त में आया था. मगर वह कपूरथला जेल से मनसा लाए जाने के दौरान सीआईए के अधिकारियों को चकमा देने में कामयाब रहा.
गैंगस्टर दीपक टीनू के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी
पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने पिछले सोमवार को कहा कि गैंगस्टर दीपक टीनू के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी कर दिया गया है और उसे जल्द ही पकड़ लिया जाएगा. पंजाब विधानसभा के आखिरी दिन विश्वास प्रस्ताव पर बहस में हिस्सा लेते हुए मान ने कहा कि अपराधी के खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी कर दिया गया है और टीनू को पकड़ने के लिए विशेष अभियान चलाया जा रहा है.
मान ने कहा कि अपराधी जल्द ही सलाखों के पीछे होगा. उन्होंने कहा कि सीआईए प्रभारी प्रीतपाल सिंह को बर्खास्त कर दिया गया है, जिसके खिलाफ इस संबंध में मामला दर्ज किया गया है और एक अदालत ने उसे 7 अक्टूबर तक रिमांड पर भेज दिया है.
मूसेवाला की हत्या 29 मई को हुई थी
पंजाब के मानसा जिले में 29 मई को सिद्धू मूसेवाला की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. पंजाब सरकार द्वारा स्थायी तौर पर उनकी सुरक्षा वापस लिए जाने के एक दिन बाद यह घटना हुई थी. मूसेवाला अपने दोस्त और चचेरे भाई के साथ मानसा में स्थित जवाहर के गांव जा रहे थे, तभी छह आरोपियों ने उनके वाहन को रोका और गोलियां बरसानी शुरू कर दीं. इसके मूसेवाला को उसी अवस्था में मानसा के सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था. हत्यारों ने मूसेवाला पर 30 से अधिक राउंड फायरिंग की थी. गोल्डी बराड़ और लॉरेंस बिश्नोई गैंग ने इस घटना की जिम्मेदारी ली थी.