NEET मामले पर सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट की सख्त टिप्पणी, 2 हफ्ते में NTA और केंद्र से मांगा जवाब

NEET अंडरग्रेजुएट परीक्षा मामले में सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने एक बार फिर सख्‍त रुख दिखाया है। कोर्ट ने सख्‍ती दिखाते हुए सरकारी टेस्टिंग एजेंसी NTA को चेतावनी दी है और कहा है कि एंट्रेंस एग्‍जाम कंडक्‍ट कराने में जरा भी गलती हुई है तो उसे स्‍वीकार करना चाहिए। इसमें सुधार की जरूरत है। जस्टिस विक्रम नाथ और जस्टिस SVN भट्टी की बेंच ने सुनवाई के दौरान माना कि NEET एग्‍जाम में कुछ गड़बड़ी हुई है। उन्‍होंने केंद्र और NTA को फटकार लगाते हुए कहा कि लाखों बच्‍चों ने बहुत मेहनत की है, जिसे नजरअंदाज नहीं कर सकते।कोर्ट ने केंद्र और NTA से कहा कि वे याचिकाओं को प्रतिकूल मुकदमे के तौर पर ना लें। कहा, ‘अगर किसी की ओर से 0.001% लापरवाही भी हुई है तो उससे पूरी तरह निपटा जाना चाहिए।’ सुप्रीम कोर्ट ने NTA को कहा है कि 8 जुलाई को तैयार होकर आएं। बता दें कि इससे जुड़ी पिछली याचिकाओं पर अगली सुनवाई 8 जुलाई को तय हुई है। NEET-UG परीक्षा मामले में नई याचिकाएं भी दायर की गई हैं, जिन पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और NTA को नोटिस जारी किया है। इन पर 2 हफ्ते के भीतर जवाब मांगा गया है।