STF ने दस्‍तावेजों की हेराफेरी कर जालसाजी करने वाले गिरोह के छह सदस्यों को गिरफ्तार किया

गाजियाबाद। उत्‍तर प्रदेश पुलिस के विशेष कार्यबल (एसटीएफ)ने बिल्डर के साथ सांठगांठ करके फर्जी कंपनी बनाकर बैकों के साथ धोखाधड़ी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश करते हुए शनिवार को छह आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने यह जानकारी दी।
पुलिस के अनुसार, एसटीएफ ने गाजियाबाद जिले के थाना कविनगर पुलिस के सहयोग से छह अभियुक्तों को अलग-अलग क्षेत्रों से गिरफ्तार किया।
एसटीएफ की गौतमबुद्ध नगर इकाई के अपर पुलिस अधीक्षक (एएसपी) राजकुमार मिश्रा ने बताया कि पकड़े गये आरोपियों की पहचान हरिकिशन, विष्णु, ऋषभ चौबे, सूर्या और संजीव के रूप में की गई है, जिनकी उम्र 20 से 25 वर्ष के बीच है जबकि 45 वर्षीय महिला प्रीति चौबे को भी गिरफ्तार किया गया है।इसे भी पढ़ें: PM Modi लोकतंत्र को नष्ट कर महाराजा बनना चाहते हैं : तेजस्वी यादव उन्होंने बताया कि प्रीति इनमें एक आरोपी ऋषभ की मां हैं। ये सभी वसुंधरा और इंदिरापुरम कॉलोनी के मूल निवासी हैं। इन सभी पर बिल्डरों को ऋण दिलाने के लिए फर्जी दस्तावेज बनाकर बैंकों के साथ धोखाधड़ी का आरोप है।
एएसपी ने बताया कि एक शिकायत के बाद एसटीएफ ने जांच शुरू की और शनिवार को आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।
आरोपियों के कब्जे से 58 चेक बुक, छह आधार कार्ड, आठ पास बुक और 31 क्रेडिट कार्ड समेत चार एसयूवी वाहन बरामद किए गए हैं।
गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ कवि नगर थाने में धोखाधड़ी, दस्तावेजों में हेराफेरी समेत कई गंभीर आरोपों में मामला दर्ज कर अग्रिम विधिक कार्रवाई की जा रही है।