…तो क्या जाएगी रोहित शर्मा की T20 कप्तानी? BCCI की मीटिंग में द्रविड़ के साथ भी हो सकता है खेल

नई दिल्ली: टी20 विश्व कप 2022 में नाकामी के बाद से ही टीम इंडिया में उथल पुथल मचा हुआ है। विश्व कप शुरू होने से पहले बीसीसीआई पूर्व अध्यक्ष सौरव गांगुली पर गाज गिरी थी। विश्व कप में मिली हार के बाद बीसीसीआई के पूरे चयन समिति को बर्खास्त कर दिया गया। अब एक बार फिर से खबरों का बाजार गर्म है। रिपोर्ट के मुताबिक बीसीसीआई की एपेक्स काउंसिल की मीटिंग में कुछ बड़े बदलाव होने के संकेत मिल रहे हैं। माना जा रहा है कि बोर्ड की यह 21 दिसंबर को होगा और इसमें कुछ कड़े फैसले लिए जाने की संभावना है जिसमे स्प्लिट कप्तानी के साथ-साथ स्प्लिट कोचिंग पर भी विचार किया जा सकता है।

ऐसे में अगर यह खबर सच साबित होती है तो की किसी टी20 फॉर्मेट से कप्तानी में उल्टी गिनती आज से ही शुरू हो जाएगी। सिर्फ कप्तानी ही नहीं, बोर्ड कोचिंग में कुछ बड़े फेरबदल करने की तैयारी में दिख रही है। हालांकि यह मीटिंग के बाद ही पता चल पाएगा कि कप्तानी और कोचिंग में किस तरह का बदलाव किया जाएगा।

क्या है स्प्लिट कप्तानी का फॉर्मूला

दरअसल मौजूदा क्रिकेट में अब टीमें अलग-अलग फॉर्मेट के लिए अलग-अलग कप्तान नियुक्त करना बेहतर समझती है। इसका उदाहरण इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलियाई जैसी टीम है, जो टेस्ट और लिमिटेड ओवरों में अलग-अलग कप्तान को नियुक्त करते हैं। इस स्प्लिट कप्तानी का फायदा भी देखने को मिला है। हाल के सालों में इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया की सफलता भी इस बात को साबित करती है।

इंग्लैंड के लिए लिमिटेड ओवरों में जोस बटलर टीम की कप्तानी करते हैं। वहीं टेस्ट में बेन स्टोक्स के पास यह जिम्मेदारी है। वहीं ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट में पैट कमिंस को कप्तानी सौंपी थी जबकि लिमिटेड ओवरों में एरोन फिंच कप्तानी करते थे लेकिन उनके संन्यास के बाद कमिंस को ही अभी वनडे में भी कप्तानी की जिम्मेदारी मिली है।

ऐसे में बीसीसीआई भी स्प्लिट कप्तानी को अपनाते हुए रोहित शर्मा से टी20 फॉर्मेट की कप्तानी वापस ले सकती है। सिर्फ कप्तानी में ही नहीं, बोर्ड अलग-अलग फॉर्मेट के लिए अलग-अलग कोच भी करने पर विचार कर सकती है। अगर ऐसा हुआ तो रोहित शर्मा और की जिम्मेदारियों में काफी कुछ बदलाव आ जाएगा।

टी20 में कप्तानी के प्रबल दावेदार

बीसीसीआई की बैठक के बाद नतीजा चाहे जो भी निकले लेकिन टी20 में कप्तानी के लिए जिस खिलाड़ी का नाम सबसे आगे है वह हार्दिक पांड्या हैं। हाार्दिक का हालिया प्रदर्शन टी20 फॉर्मेट उनकी कप्तानी की दावेदारी काफी मजबूत कर दिया है। अपनी फिटनेस पर काम करने के साथ-साथ उन्होंने अपने खेल के स्तर को भी ऊंचा उठाया है।

ऐसे में बोर्ड अब चाहेगी कि वह भविष्य के लिए एक युवा ब्रिगेड को तैयार करें जिससे कि टीम में रोहित शर्मा, विराट कोहली, रविचंद्रन अश्विन, मोहम्मद शमी और भुवनेश्वर कुमार जैसे सीनियर खिलाड़ियों की भरपाई की जा सकी। इसी को ध्यान में रखते हुए संभावना जताई जा रही है कि हार्दिक पांड्या ने टीम इंडिया का अगला टी20 कप्तान बनाया जा सकता है।

इसकी संभावना इसलिए भी अधिक बन रही है क्योंकि हार्दिक कप्तानी में अपनी क्षमता को इंडियन प्रीमियर लीग में साबित किया है। उन्होंने अपनी कप्तानी के डेब्यू सीजन में गुजरात टाइटंस को चैंपियन बनाकर सनसनी मचा दी।

वहीं अगर हार्दिक को टी20 में कप्तान नियुक्त कर दिया जाता है तो ऐसी परिस्थिति में रोहित शर्मा वनडे और टेस्ट में कप्तान बने रह सकते हैं।

श्रीलंका के खिलाफ घरेलू इंटरनेशनल सीरीज की शुरुआत

भारतीय टीम इस समय बांग्लादेश दौरे पर है। यहां टीम इंडिया को तीन वनडे मैचों की सीरीज में 2-1 से हार मिली थी। हालांकि टेस्ट सीरीज में भारत ने पहले मैच को जीतकर दमदार शुरुआत की है। वहीं भारत का इस साल यह आखिरी इंटरनेशनल सीरीज भी है लेकिन अगले साल 2023 के शुरुआत में ही श्रीलंका के खिलाफ उसे अपने घर में भिड़ना है। भारत और श्रीलंका के बीच तीन टी20 और इतने ही वनडे मैचों की सीरीज खेला जाएगा।

टी20 सीरीज की शुरुआत 3 जनवरी से होगा। दोनों टीमों के बीच दूसरा मैच 5 और तीसरा मैच 7 जनवरी को खेला जाएगा। इसके अलावा वनडे सीरीज 10 जनवरी से शुरू होगा जबकि दूसरा मैच 12 जनवरी को खेला जाएगा और तीसरा वनडे 15 जनवरी को होगा।

वहीं यह माना जा रहा है कि पांड्या ने श्रीलंका के खिलाफ इस घरेलू सीरीज से टीम इंडिया में वापसी करेंगे, जिसके लिए वह जमकर प्रैक्टिस शुरू कर चुके हैं।