सिसोदिया, राबड़ी, लालू… CBI ने मारी पिचकारी और होली से पहले ही विपक्ष की टोली का बिखर गया रंग!

नई दिल्ली: मिशन 2024 के लिए सत्ता पक्ष से लेकर विपक्ष हर कोई पिचकारी में रंग भर रहा था। विपक्ष ऐन वक्त पर पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर चटकीला रंग डालने की तैयारी में था। लेकिन ये क्या केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) के एक एक्शन ने रंग में भंग डाल दिया। शराब घोटाले में जेल में बंद मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) से ईडी की पूछताछ हुई तो दूसरी तरफ लैंड फॉर जॉब (Land For Jobs Scam Case) स्कैम में लालू यादव (Lalu Yadav) से सीबीआई ने सवाल-जवाब किए। विपक्ष की तैयारी कहां तो मोदी सरकार को घेरने की थी लेकिन केंद्रीय एजेंसियों के दांव के सामने विपक्ष अब बिखरा सा नजर आने लगा है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) तो अब विपक्षी खेमे की तरफ से खम्म ठोकने वाले हैं। सिसोदिया की गिरफ्तारी से आम आदमी पार्टी (AAP) लाल है। अब केजरीवाल होली के दिन देश के लिए पूजा और प्रार्थना करने वाले हैं। केजरीवाल ने देशवासियों से होली मनाने के बाद थोड़ा वक्त निकालकर देश की खातिर मेरे साथ भगवान की पूजा और ध्यान करने की अपील की है। दरअसल, केंद्रीय एजेंसियों के एक्शन में आने के बाद विपक्षी दल भी सकते में हैं। कुछ दिन पहले 8 दलों ने केंद्रीय एजेंसियों के गलत इस्तेमाल पर पीएम मोदी को चिट्ठी लिखी थी। होली में रंग में भंग!दरअसल, मिशन 2024 के में जुटे विपक्षी दल ने केंद्र सरकार पर गौतम अडानी से लेकर महंगाई और बेरोजगारी वाला रंग अपनी पिचकारी में भर चुका था। लेकिन ऐन वक्त पर केंद्रीय एजेंसियां एक्टिव क्या हुई विपक्ष की टोली में रंग में भंग पड़ गया। होली से पहले लालू यादव के घर सीबीआई पूछताछ करने पहुंच गई। जोगीरा की जगह, बवाल मच गया। कभी लालू अपनी कु्र्ता फाड़ होली के लिए मशहूर रहे हैं लेकिन सीबीआई ने होली के एक दिन पहले नौकरी के बदले जमीन घोटाले में पूछताछ कर मजा ही किरकिरा कर दिया। एक दिन पहले ही सीबीआई की टीम लालू यादव की पत्नी राबड़ी देवी से पटना में पूछताछ की थी। पिचकारी तो भरी की भरी रह गई!हालांकि, विपक्ष ने मोदी सरकार को होली पर बेरंग करने की पूरी तैयारी कर चुका था। 8 दलों की चिट्ठी। शरद पवार, अखिलेश यादव, ममता बनर्जी, तेजस्वी यादव जैसे धुरंधर खिलाड़ी एकजुट हो गए थे। पर कहते हैं न सत्ता पक्ष ने अपनी रंग भरी पिचकारी अभी निकाली ही नहीं थी। जैसे ही सीबीआई और ईडी एक्टिव हुई, विपक्षी खेमा पीछे हट गया। मिशन मनीष सिसोदिया सीबीआई की हिरासत से छूटकर जेल में पहुंचे तो वहां भी उन्हें चैन नहीं मिला। ईडी की टीम तिहाड़ के जेल नंबर 1 में उनसे पूछताछ करने पहुंच गई। कहां तो रंगों का बाजार सजा था, कहां सत्ता पक्ष के एक पिचकारी दांव ने विपक्ष को हिला डाला। अब होली पर केजरीवाल की प्रार्थना अपने दो धुरंधर नेताओं के जेल में जाने से केजरीवाल केंद्र सरकार पर लाल हैं। केजरीवाल ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि सभी जानते हैं कि दिल्ली के सरकारी स्कूलों और अस्पतालों का बुरा हाल है… लेकिन इन सरकारी स्कूलों और अस्पतालों को सुधारने वाले दो लोग-मनीष सिसोदिया और सत्येंद्र जैन-जेल में हैं। मुख्यमंत्री ने आरोपों की पिचकारी का मुंह पीएम मोदी की तरफ खोल दिया। उन्होंने कहा कि भारत के लिए अच्छा काम करने वालों को जेल में डाल दिया है, जबकि देश को लूटने वालों को गले लगाया जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘होली पर मैं देश की दयनीय स्थिति में सुधार के लिए ध्यान और प्रार्थना करूंगा। अगर आपको भी लगता है कि प्रधानमंत्री सही तरह से काम नहीं कर रहे हैं, तो आप भी होली का त्योहार मनाने के बाद देश के लिए प्रार्थना करें।’ केजरीवाल ने कहा, ‘मैं सिसोदिया और जैन के जेल में होने को लेकर चिंतित नहीं हूं। वे बहादुर लोग हैं, जो देश के लिए अपनी जान कुर्बान करने को तैयार हैं। लेकिन देश के हालात मुझे चिंता में डालते हैं।’ आरजेडी के लिए मुसीबत वाली होली!किडनी ट्रांसप्लांट के बाद दिल्ली में अपनी बड़ी बेटी मीसा के घर दिल्ली में स्वास्थ्य लाभ कर रहे लालू यादव से भी सीबीआई ने करीब ढ़ाई घंटे पूछताछ की। एक समय था जब लालू यादव होली के दो-तीन पहले अपनी कुर्ता फाड़ होली के लिए मशहूर रहे हैं। लेकिन होली के एक दिन पहले सीबीआई के सवाल-जवाब ने उनके रंग में भी भंग पड़ गया। राबड़ी देवी ने सीबीआई की पूछताछ को ये तो होता ही रहता बताकर बात को आई-गई करने की कोशिश की लेकिन ये उन्हें और आजरेडी को पता है कि आरोपों की पिचकारी से राज्य की राजनीति पर भी असर हो सकता है।