शिवम दुबे ने मारा मोहाली का मैदान, भारत ने अफगानिस्तान को छह विकेट से हराया

मोहाली: भारतीय टीम ने पहले टी-20 इंटरनेशनल में अफगानिस्तान पर छह विकेट की एकतरफा जीत दर्ज की। अफगानिस्तान ने टॉस गंवाकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 158 रन बनाए थे। जवाब में मेजबानों ने 15 गेंद पहले चार विकेट खोकर ही लक्ष्य साध लिया। भारत की जीत में ऑलराउंडर शिवम दुबे ने अपने करियर का सर्वोच्च स्कोर बनाया। बाएं हाथ के बल्लेबाज ने 38 गेंद में फिफ्टी पूरी करते हुए नाबाद 60 रन बनाए, गेंदबाजी में एक विकेट भी लिया। नौ गेंद में 16 रन बनाकर रिंकू सिंह नाबाद रहे। इससे पहले विकेटकीपर जितेश शर्मा ने 20 गेंद में 31 रन की प्रभावी पारी खेली। अब सीरीज का दूसरा मुकाबला रविवार को इंदौर में होना है। अगर टीम इंडिया इसे जीत जाती है तो सीरीज में 2-0 की अजेय लीड हासिल कर लेगी।आज की शाम शिवम के नामदोनों हाथों से मौका का फायदा उठाना किसे कहते हैं कोई शिवम दुबे से पूछें। 2019 में इंटरनेशनल डेब्यू के बावजूद अबतक टीम में जगह पक्की न कर पाए शिवम ने गेंद और बल्ले दोनों से कमाल दिखाया। पहले दो ओवर में नौ रन देकर एक विकेट चटकाया तो फिर चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए पांच चौके और दो छक्के की मदद से 60 रन बनाए। शिवम दुबे की वापसी में आईपीएल की अहम भूमिका है। वह एमएस धोनी की कप्तानी में चेन्नई सुपरकिंग्स की ओर से खेलते हैं।अफगानिस्तान ने दिया था 159 रन का लक्ष्यइससे पहले अनुभवी मोहम्मद नबी और युवा अजमतुल्लाह ओमरजई के बीच 43 गेंद में 68 रन की साझेदारी से अफगानिस्तान ने पांच विकेट खोकर 158 रन बनाए थे। भारत के पावरप्ले में दबदबे के बाद नबी (27 गेंद में 42 रन) और ओमरजई (22 गेंद में 29 रन) ने चौथे विकेट के लिए साझेदारी निभाकर अपनी टीम को इस स्कोर तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। भारत ने पीसीए स्टेडियम में शीतलहर के बीच 10 ओवर में अफगानिस्तान का स्कोर तीन विकेट पर 57 रन कर दिया था। सलामी बल्लेबाज रहमनुल्लाह गुरबाज (28 गेंद में 23 रन) और कप्तान इब्राहिम जदरान (22 गेंद में 25 रन) पावरप्ले में केवल चार बाउंड्री ही लगा सके। मिडिल ओवर्स में पठानों ने जोरदार वापसी की। आखिरी छह ओवर में अफगानिस्तान ने 69 रन बनाए। आखिरी में मोहम्मद नबी ने 27 गेंद में 42 रन तो नजीबुल्लाह जदरान ने 11 गेंद में नाबाद 19 रन की ताबड़तोड़ पारी खेली। भारत ने मोहाली की कड़कड़ाती सर्दी में तीन कैच छोड़े।