रामलीला में अब मंच पर आया ‘शिव’ को हार्ट अटैक और हो गई मौत

उत्तर प्रदेश के जौनपुर में रामलीला मंचन के दौरान भगवान शिव का अभिनय कर रहे कलाकार की लाइव मौत का वीडियो सामने आया है. रामलीला के पहले दिन ही भगवान शिव की आरती हो रही थी इसी दौरान शिव का अभिनय कर रहा व्यक्ति मंच पर आचानक गिर जाता है. स्थानीय लोगों द्वारा अस्पताल ले जाया गया लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. घटना के बाद गांव में मातम पसरा हुआ है. इस साल रामलीला का मंचन भी स्थगित कर दिया गया. दरअसल मछलीशहर तहसील क्षेत्र के बेलासिन गांव में 1970 से आदर्श रामलीला नाट्य समिति के बैनर तले गांव वालों की मदद से रामलीला का मंचन होता चला आ रहा है.
इसी गांव निवासी राम प्रसाद उर्फ़ छब्बन पाण्डेय (55) रामलीला में भगवान शिव का अभियान कर रहे थे. सोमवार को रामलीला मंचन का पहला दिन था. शुरुआत में भगवान शिव की आरती के दौरान आचानक मंच पर गिरकर उनकी मौत हो गयी. घटना के बाद गांव में मातम पसर गया है. इसके साथ ही इस वर्ष की रामलीला को भी स्थगित कर दिया गया है.
आरती के समय हुई मौत
भगवान शिव का अभिनय करने वाले मृतक राम प्रसाद पाण्डेय रामलीला मंच पर अभिनय कर रहे थे. उनके सामने लोग पूजा की थाली लेकर दीप जलाकर आरती कर रहे थे. इसी दौरान कलाकार के सीने में आचानक दर्द होने लगता है जिससे वह पीछे की तरफ मंच पर गिर पड़ते हैं. आरती रोककर वहां मौजूद लोग उन्हें उठाकर मछली शहर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए, लेकिन आरोप है कि वहां कोई चिकित्सक नहीं मिला. इसके बाद उन्हें निजी अस्पताल ले जाया गया, लेकिन चिकित्सकों ने उन्हे मृत घोषित कर दिया.
मृतक राम प्रसाद के चार पुत्र और एक पुत्री है. घटना के बाद परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है. मंगलवार को मृतक के बेटे द्वारा वाराणसी के मणिकर्णिका घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया.
करीब 5 वर्षों से कर रहे थे भगवान शिव का अभिनय
TV9 भारतवर्ष से बातचीत के दौरान बेलासिन गांव निवासी विजयकांत मिश्र ने बताया कि मृतक राम प्रसाद उर्फ छब्बन पाण्डेय बेलासिन गांव में आदर्श रामलीला नाट्य समिति के बैनर तले होने वाली रामलीला में पिछले करीब 5 वर्षों से भगवान शिव का अभिनय कर रहे थे. उसके पहले वह मुम्बई रहते थे. मुम्बई से गांव आने के बाद उन्होंने रामलीला में भगवान शिव का अभिनय करना शुरू किया था. उनका अभिनय प्रसंशनीय था. रामलीला में आरती के दौरान हार्ट अटैक से उनकी मौत हो गई. अस्पताल ले जाने पर चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया.