क्या गॉडमदर बनना चाहती है अतीक की पत्नी शाइस्ता परवीन! संतोक बेन की तरह रियल स्टेट में कब्जा जमाने का प्लान

अतीक अहमद (Atique Ahmed) की पत्नी शाइस्ता परवीन () कितनी शातिर है आप इस बात का अंदाजा भी नहीं लगा सकते। शाइस्ता परवीन को लेकर एक नया खुलासा हुआ है। 4 महीने से पुलिस की आंख में धूल झोंक रही है ये इनामी बदमाश छुपकर अपनी ताकत बढ़ा रही है। अतीक के मरने के बाद शाइस्ता एक-एक कदम बड़ी ही चालाकी से ले रही है। पिछले दिनों खबर आई थी कि शाइस्ता परवीन ने अतीक की कुछ प्रॉपर्टी अपने नाम ट्रांसफर करवा ली है और अब पता चला है कि इस लेडी माफिया ने सीतापुर में सब्जी मंडी के नजदीक एक गौशाला की जमीन पर कब्जा कर लिया है। आखिर क्या चाहती है शाइस्ता परवीन? क्या शाइस्ता परवीन गुजरात की लेडी डॉन संतोख बेन की राह पर चली दी है? क्या संतोक बेन की तरह ही शाइस्ता छुपकर रियल स्टेट पर कब्जा करना चाहती है? क्या गॉडमदर बनना चाहती है शाइस्ता परवीन पति की मौत के बाद संतोक बेन बनीं थीं गुजरात की डॉन संतोक बेन (Santokh Ben) जिन्हें गॉडमदर के नाम से जाना जाता है वो कभी गुजरात में खौफ का दूसरा नाम हुआ करतीं थीं। संतोक बेन ने सूरत में ऐसा खूनी खेल खेला था कि आज भी उनके नाम से लोग घबराते हैं। काले धंधे में लगे संतोक बेन के पति को मार दिया गया था। पति के कत्ल के बाद घर में रहने वाली संतोक बेन ने पति की मौत का बदला लेने की ठानी। घर से निकलकर सीधा वो बन गईं गुजरात की डॉन। पहले रियल स्टेट के बिजनेस पर कब्जा किया और फिर ट्रांस्पोर्टेशन। एक-एक कर संतोक बेन अपने पति के हत्यारों को मौत दी। कहते हैं उस जमाने में संतोक बेन इतनी ताकतवर बन चुकीं थीं कि कोई अगर उनके खिलाफ कुछ भी बोलत तो वो उसे मौत के घाट उतार देती। संतोक बेन का अंडरवर्ल्ड से भी था कनेक्शन उस जमाने में संतोक बेन का रुतबा ये था कि बड़े-बड़े राजनेता भी संतोक बेन से संपर्क करते थे। कहा तो ये भी जाता है संतोक बेन के अंडरवर्ल्ड से भी कनेक्शन थे। अंडरवर्ल्ड डॉन करीम लाला को संतोक बेन का काफी करीबी माना जाता था। बाद में संतोक बेन ने चुनाव भी लड़ा और विधायक भी बनी। कुतियान इलाके को आज भी संतोक बेन के नाम से ही जाना जाता है। संतोक बेन के अंदाज में शाइस्ता कर रही है काम अब उत्तर प्रदेश में शाइस्ता परवीन भी उसी अंदाज में काम करती नजर आ रही है। संतोक बेन की तरह ही पति की मौत के बाद शाइस्ता ने खुद को माफिया में तब्दील कर लिया है। जब तक अतीक जिंदा था उसकी पत्नी को कोई नहीं जानता था। सालों तक शाइस्ता घर संभालती रही, लेकिन पति की मौत के बाद शाइस्ता ने पूरे गैंग की कमान संभाल ली। छुपकर ही वो अतीक के गैंग से संपर्क बनाती रही। खबरें तो ये भी आई हैं कि अतीक के लोग शाइस्ता को ही पैसे और हथियार सप्लाई करते हैं। सीतापुर में गौशाला की जमीन पर किया है कब्जा! जब अतीक की मौत हुई तो हर किसी को लगा था कि शाइस्ता सरेंडर कर देगी, लेकिन शाइस्ता के इरादे तो कुछ और ही थे। महीनों से यूपी पुलिस की नाक में दम करने वाली ये नई माफिया एक-एक कर अपने काम भी निपटा रही है और पुलिस की पकड़ में भी नहीं आ रही। शाइस्ता के मेन फोकस उत्तर प्रदेश की ऐसी प्रॉपर्टी का जिस पर वो कब्जा कर सकती है। मीडिया में छपी खबरों के मुताबिक सीतापुर वाली जमीन के मामले में शाइस्ता परवीन के अलावा उसके बेटों के खिलाफ भी केस भी दर्ज हुआ है।