इमरान के करीबियों पर शहबाज सरकार का शिकंजा, बुशरा बीबी को भेजा नोटिस, भतीजा गिरफ्तार

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की भ्रष्टाचार रोधी संस्था ने सोमवार को इमरान खान की तीसरी पत्नी बुशरा बीबी को भ्रष्टाचार के एक मामले में तलब किया। पाकिस्तानी पुलिस ने एक दिन पहले खान और तहरीक-ए-इंसाफ (PTI) पार्टी के 12 से अधिक नेताओं के खिलाफ तोड़फोड़ करने, सुरक्षाकर्मियों पर हमला करने और इस्लामाबाद में न्यायिक परिसर के बाहर अशांति फैलाने के आरोप में आतंकवाद का एक मामला दर्ज किया था। इस्लामाबाद न्यायिक परिसर के बाहर शनिवार को उस समय झड़पें हुईं, जब खान तोशाखाना मामले में सुनवाई में शामिल होने के लिए लाहौर से इस्लामाबाद पहुंचे।हालांकि, न्यायिक परिसर के बाहर हुई हिंसा के कारण न्यायाधीश ने एक रजिस्टर पर हस्ताक्षर करने के बाद इमरान खान को घर लौटने की अनुमति दे दी। ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ अखबार के मुताबिक, राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (NAB) की टीम लाहौर में खान के जमान पार्क स्थित आवास पर पहुंची और बुशरा को नोटिस जारी किया। अखबार में दी गई खबर में कहा गया है कि उन्हें (बुशरा) मंगलवार के लिए तलब किया गया। एनएबी ने इससे पहले तोशाखाना मामले में पूछताछ के लिए खान और उनकी पत्नी को नौ मार्च को अपने रावलपिंडी कार्यालय में बुलाया था। इमरान का भतीजा हुआ गिरफ्तारतोशाखाना मामले में सुनवाई 30 मार्च तक के लिए स्थगित कर दी गई, क्योंकि न्यायाधीश ने पाया कि स्थिति सुनवाई के लिए अनुकूल नहीं है। इसके अलावा पुलिस ने अदालत के बाहर सुरक्षाकर्मियों पर हुए हमलों में संलिप्तता के आरोप में पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान के भतीजे और उनके कई समर्थकों को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। सोमवार की गिरफ्तारी के बाद इस्लामाबाद में गिरफ्तार किए गए खान के समर्थकों की कुल संख्या शनिवार से अब तक 198 हो गई है। गिरफ्तार लोगों में खान का भतीजा हसन नियाजी भी शामिल है।पुलिसकर्मियों पर एक्शन का संकल्पइमरान खान शनिवार को जब लाहौर से इस्लामाबाद के लिए निकले थे तब उनके घर पर पुलिस ने धावा बोला। जानकारी के मुताबिक लगभग 10 हजार पुलिसकर्मियों की टीम ने मोर्चा संभाला। अब इमरान ने कहा है कि घर की तलाशी और कार्यकर्ताओं की पिटाई में शामिल हर एक अधिकारी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। पंजाब पुलिस की टीम बुलडोजर के साथ इमरान के घर पहुंची थी, जहां गेट को तोड़ दिया गया।(एजेंसी इनपुट के साथ)