अलगाववाद और आतंकवाद भारत के बाहर से आया : Union Minister Meghwal

केंद्रीय पर्यटन राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने यहां रविवार को कहा कि अलगावाद और आतंकवाद बाहर से आया है और यह भारत में रह रहे लोगों का नहीं है।
मेघवाल एमएसएमई संगोष्ठी में हिस्सा लेने के लिए जम्मू में थे।
‘वारिस पंजाब दे’ प्रमुख अमृतपाल सिंह की गिरफ्तारी के बारे में पूछे जाने पर मेघवाल ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘मैं वैश्विक बौद्ध सम्मेलन और लेह व लद्दाख के लोगों से मिलने के लिए दिल्ली में था। सभी शांति चाहते हैं।’’
उन्होंने कहा, ‘‘ भारत विश्व शांति की प्रक्रिया का नेतृत्व करेगा। अलगाववाद और आतंकवाद उन लोगों के दिलों में नहीं है जो भारत में रहते हैं, यह बाहर से आया है।’’
अमृतपाल को सुबह 6.45 बजे पंजाब के मोगा जिले स्थित रोडे से हिरासत में लिया गया। आतंकवादी जरनैल सिंह भिंडरावाले रोडे गांव से था और अमृतपाल को पिछले साल इस गांव में आयोजित एक कार्यक्रम में ‘वारिस पंजाब दे’ संगठन का प्रमुख नियुक्त किया गया था।
अमृतपाल को राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत असम के डिब्रूगढ़ जेल ले जाया गया है।
मेघवाल ने कहा कि सरकार सभी लोगों के कल्याण को लेकर प्रतिबद्ध है और वह सुशासन व विकास के जरिये उनका दिल जीत रही है।
उन्होंने कहा,‘‘यह देश को एकजुट करेगा और उसे महान बनाएगा।’’
केंद्रीय संसदीय राज्यमंत्री का प्रभार भी देख रहे मेघवाल ने कहा कि विकास और सुशासन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व का अहम बिंदु है और यह जम्मू-कश्मीर में शांति लाने में मददगार साबित होगा।
मेघवाल ने दावा किया कि पाकिस्तान में लोकतंत्र, विकास और रोजगार नहीं है।
केंद्रीय मंत्री से जब पाकिस्तान द्वारा आतंकवादी हमलों की साजिश कर जम्मू-कश्मीर में शांति और प्रगति को पटरी से उतारने की कोशिश के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए आप पाकिस्तान की ऐसी स्थिति देख रहे हैं।