इस केबल ब्रिज पर सेल्फी लेना पड़ेगा महंगा, जेब से ढीले करने होंगे 2 हजार

हैदराबाद: लेने के लिए आपने कार पार्क की है तो इसके लिए आपको दो हजार रुपए का जुर्माना भरना होगा। तेलंगाना के हैदराबाद में बना यह पुल अपने आपमें काफी खास है। जिस पर सेल्फी लेने वालों की होड़ लगी रहती है। सेल्फी लेने की चाहत में लोग यह तक भूल जाते हैं कि उन्होंने कार कैसे खड़ी की है। जिसके चलते पुल पर गाड़ियों की लंबी लाइन लग जाने से भीषण जाम लग जाता है। माधापुर ट्रैफिक पुलिस को आए दिन इस समस्या से जूझना पड़ रहा था। जिसके चलते पहले लगने वाले दो सौ रुपए के जुर्माने को दस गुना बढ़ा दिया गया है।साल 2020 में हुआ था पुल का उद्घाटन पुलिस का कहना है कि उन्होंने केबल ब्रिज पर गश्त भी बढ़ा दी है। क्योंकि खासकर रोजाना शाम और वीकेंड होने पर कई लोग सिक्स-लेन ब्रिज को घेर लेते हैं। इसके चलते वाहनों की बेतरतीब पार्किंग से यातायात बाधित होता है। इस दौरान कुछ तो पुल पर सेल्फी क्लिक करते हुए पाए जाते हैं तो कुछ ताजी हवा लेने के लिए टहलते हुए दिखाई देते हैं। पुलिस के मुताबिक ऐसे लोगों की कार और बाइकें कैरिजवे के एक बड़े हिस्से पर कब्जा कर लेती हैं। जिससे वाहनों की आवाजाही के लिए बहुत कम जगह बचती है। साल 2020 में उद्घाटन किया गया यह पुल आकर्षक नीयन रोशनी से सुशोभित है जो कि शहर के लिए एक मील का पत्थर है। सायरन बजाने से नहीं पड़ा फर्कअब तक पुलिस पुल पर खड़े लोगों को भगाने के लिए सायरन बजाती थी। लेकिन इससे पुल पर लगने वाली भीड़ को रोकने में कामयाबी नहीं मिली। जिसके बाद पुलिस ने वास्तविक समय के आधार पर पुल की निगरानी करने और अवैध पार्किंग के खिलाफ प्रवर्तन अभियान चलाने के लिए सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुल के किनारे अवैध रूप से रुकने वाली बाइक और चार पहिया वाहनों की नंबर प्लेट कैमरे में खुद ही कैद हो जाएगी और मौके पर ही चालान कट जाएगा। ज्यादा जुर्माने से बढ़ेगा कंट्रोल केबल ब्रिज पर जाम की समस्या खासकर शाम के पीक आवर्स के दौरान ज्यादा होती है। अब जुर्माना राशि ज्यादा होने से उम्मीद है कि पुल पर लगने वाली फालतू भीड़ कम होगी। हालांकि इस पर एक पैदल रास्ता है और साथ ही एक पार्क भी है जो केबल ब्रिज का मनोरम दृश्य प्रदान करता है। एक माधापुर यातायात सिपाही ने कहा कि लोगों को पुल के रास्ते में बाधा नहीं डालनी चाहिए। अधिकारियों ने पैदल चलने वालों से फ़ुटपाथ का इस्तेमाल करने और मुख्य पुल पर भीड़ न लगाने की अपील की है। वहीं स्थानीय लोगों ने सुझाव दिया कि आईटीसी कोहिनूर या इनॉर्बिट मॉल के बगल वाली सड़क पर पार्किंग की जगह का इस्तेमाल कर पुल पर होने वाली अव्यवस्था से बचा जा सकता है।