Maharashtra में सीट बंटवारे पर लगेगी मुहर! 14-15 जनवरी को बड़ी बैठक, सोनिया, खड़गे, शरद और उद्धव रहेंगे मौजूद

इंडिया गठबंधन के लिए कई राज्यों में सीट बंटवारे का फार्मूला निकल पाना मुश्किल होता दिखाई दे रहा है। आम आदमी पार्टी के साथ बैठक मे कांग्रेस ने पंजाब और दिल्ली जैसे राज्यों में सीट बंटवारे को लेकर चर्चा की। तो वहीं महाराष्ट्र जैसे बड़े राज्य को लेकर भी आने वाले दिनों में चर्चा होगी। जानकारी के मुताबिक 14 और 15 जनवरी को महाराष्ट्र में सीट बंटवारे को लेकर चर्चा की जाएगी। महाराष्ट्र में 48 लोकसभा की सीटें हैं। महा विकास अघाड़ी में शामिल दल अपने-अपने तरीकों से सीटों पर दावेदारी कर रहे हैं। महाराष्ट्र में महा विकास अघोरी में शामिल दल 14 और 15 जनवरी को दिल्ली में बैठक करने वाले हैं। इस बैठक के बाद ही महाराष्ट्र में सीट बंटवारे को लेकर कोई फाइनल मुहर लग सकती है। इसे भी पढ़ें: ‘खड़गे का नाम तो मैं जानता ही नहीं’, JDU विधायक बोले- नीतीश कुमार के अलावा कोई भी पीएम बनने लायक नहींजानकारी के मुताबिक इस बैठक में मल्लिकार्जुन खड़गे, राहुल गांधी, सोनिया गांधी के अलावा शरद पवार, उद्धव ठाकरे जैसे वरिष्ठ नेता मौजूद रहेंगे। महाराष्ट्र के महा विकास अघाड़ी गठबंधन में उद्धव ठाकरे के शिवसेना शरद पवार की एनसीपी और कांग्रेसी शामिल है। हालांकि, उद्धव ठाकरे की शिवसेना और शरद पवार की एनसीपी फिलहाल विभाजन का सामना कर रही है। 2019 की तुलना में यह दोनों पार्टियों कमजोर नजर आ रही हैं। यही कारण है कि कांग्रेस फिलहाल सीटों को लेकर अपनी बड़ी दावेदारी कर रही है। पिछले दिनों कांग्रेस ने नागपुर में अपनी ताकत भी दिखाने की कोशिश की थी। उद्धव ठाकरे के शिवसेना 2019 में 23 सीटों पर चुनाव लड़ा था। यही कारण है कि वह अभी 23 सीटों पर चुनाव लड़ने की दावेदारी कर रही है। हालांकि कांग्रेस इतने पर तैयार होती दिखाई नहीं दे रही।वहीं, वंचित बहुजन अघाड़ी के प्रमुख प्रकाश अंबेडकर ने शिवसेना (यूबीटी) से अपील की कि अगर महा विकास अघाड़ी के सदस्य सीट-बंटवारे के फॉर्मूले को अंतिम रूप देने में विफल रहते हैं तो महाराष्ट्र में लोकसभा चुनाव के लिए वीबीए के साथ गठबंधन करें। उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी और वीबीए आगामी लोकसभा चुनाव में 24-24 सीटों पर चुनाव लड़ सकती हैं। संजय राउत ने कहा कि केंद्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का आगामी लोकसभा चुनाव में मुकाबला करने के लिए प्रकाश आंबेडकर नीत वंचित बहुजन आगाडी (वीबीए) महाराष्ट्र में विपक्षी गठबंधन का ‘‘महत्वपूर्ण हिस्सा’’ है। इसे भी पढ़ें: इंडिया गठबंधन में सीट बंटवारे की राह में बड़ी बाधा बन गयी प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवारीसंजय राउत ने रविवार को कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव के लिए सीट बंटवारे को लेकर महाविकास आघाडी (एमवीए) के सहयोगियों के बीच कोई खींचतान नहीं है। उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली पार्टी और दिल्ली तथा महाराष्ट्र के कांग्रेस नेताओं के बीच एक ‘‘बेहतर समझ’’ है। राउत ने शुक्रवार को कहा था कि उनकी पार्टी अगले साल लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र की 48 में से 23 सीट पर लड़ेगी। प्रदेश कांग्रेस ने राउत की टिप्पणी पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी। इसके बाद पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे ने शनिवार को कहा था कि वह ऐसा कुछ भी नहीं करेंगे जिससे एमवीए गठबंधन को कोई नुकसान पहुंचे।