Delhi में सड़क से संसद तक कांग्रेस का प्रोटेस्ट, बीवी श्रीनिवास बोले- अडानी को बचाने के लिए OBC का मुद्दा लेकर आए

राहुल गांधी को अयोग्य ठहराए जाने को लेकर ‘लोकतंत्र बचाओ’ अभियान के तहत अधिकांश विपक्षी नेता संसद में काले कपड़े पहन नजर आए। इस बीच, संसद में कांग्रेस प्रमुख मलिकार्जुन खड़गे के कार्यालय में समान विचारधारा वाले विपक्षी दलों ने बैठक भी बुलाई। बैठक में तृणमूल कांग्रेस ने भी हिस्सा लिया। विपक्षी नेताओं ने अडानी मुद्दे की जेपीसी जांच की मांग की और राहुल गांधी की अयोग्यता को लेकर संसद में महात्मा गांधी की प्रतिमा के बाहर धरना दिया।इसे भी पढ़ें: राहुल गांधी की अयोग्यता के खिलाफ इंडियन ओवरसीज कांग्रेस ने लंदन में किया प्रदर्शन, केंद्र के कदम को ‘अलोकतांत्रिक’ बतायाकांग्रेस नेता बीवी श्रीनिवास ने कहा कि अडानी को बचाने के लिए यह लोग (भाजपा) ओबीसी का मुद्दा लेकर आए और जब की नीरव मोदी, मेहुल चौकसी खुद ओबीसी नहीं और जो शिकायतकर्ता है वह भी ओबीसी नहीं है। यह लोग बस देश की जनता का ध्यान हटाना चाहते हैं। यह बस दोस्ती निभाकर दोस्त को बचाना चहाते हैं। समाजवादी पार्टी के नेता एसटी हसन ने कहा कि सारे देश को इस बात की चिंता है कि न्याय व्यवस्था खराब नहीं होनी चाहिए। अदालतें सज़ा दें, हम अपराधी के पक्ष में नहीं हैं। हम कानून को बचाने के पक्ष में हैं।