Prakash Ambedkar ने राम मंदिर कार्यक्रम का निमंत्रण ठुकराया, कहा- यह राजनीतिक अभियान बन गया है

वंचित बहुजन आघाड़ी (वीबीए) के अध्यक्ष प्रकाश आंबेडकर ने 22 जनवरी को अयोध्या में नए राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए राम मंदिर ट्रस्ट के निमंत्रण को बुधवार को अस्वीकार कर दिया।
ट्रस्ट को लिखे पत्र में उन्होंने कहा कि इस आयोजन को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) ने हथिया लिया है।
उन्होंने कहा, ‘‘एक धार्मिक आयोजन को राजनीतिक अभियान में बदल दिया गया है।’’
वीबीए प्रमुख ने कहा कि उनके दादा डॉ. बी आर आंबेडकर ने चेतावनी दी थी कि अगर राजनीतिक दल जाति और धर्म को राष्ट्र से ऊपर रखेंगे तो स्वतंत्रता एक बार फिर खतरे में पड़ जाएगी।