वर्ल्ड चैंपियन को मात देकर Praggnanandhaa नंबर 1 पर काबिज, विश्वनाथन आनंद को छोड़ा पीछे

भारत के युवा शतरंज स्टार आर प्रज्ञानानंद ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए वर्ल्ड चैंपियन को पटखनी दी है। उन्होंने टाटा स्टील शतरंज टूर्नामेंट के चौथे दौर में चीन के मौजूदा वर्ल्ड चैंपियन डिंग लीरेन को हराया। इस जीत के साथ ही वह दिग्गज विश्वनाथन आनंद को पीछे छोड़कर भारत के नंबर वन खिलाड़ी बन गए हैं।  दरअसल, मंगलवार की रात को दर्ज की गई इस जीत से 18 वर्षीय प्रज्ञाननंदा के 2748.3 रेटिंग अंक हो गए हैं जो फिडे लाइव रेटिंग में पांच बार के विश्व चैंपियन आनंद के 2748 अंकों से अधिक है। विश्व शतरंज की सर्वोच्च संस्था प्रत्येक महीने के शुरू में रेटिंग जारी करती है।
प्रज्ञाननंदा ने काले मोहरों से खेलते हुए 62 चाल में जीत दर्ज की। वह आनंद के बाद दूसरे भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं जिन्होंने क्लासिकल शतरंज में मौजूदा विश्व चैंपियन को हराया।
प्रज्ञाननंदा ने इससे पहले 2023 में टाटा स्टील टूर्नामेंट में भी लीरेन हराया था।
इस भारतीय खिलाड़ी ने मैच के बाद कहा कि, यह बहुत अच्छा एहसास है। प्रज्ञाननंदा के मास्टर्स ग्रुप में अब 2.5 अंक हो गए हैं और वह तालिका में तीसरे स्थान पर हैं।
यह किशोर ग्रैंडमास्टर अभी अच्छी फॉर्म में है। उन्होंने पिछले साल विश्व कप में मैग्नस कार्लसन के बाद दूसरे नंबर पर रहते हुए अप्रैल में होने वाले कैंडिडेट्स टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाई किया था।
मास्टर्स ग्रुप में नीदरलैंड के अनीश गिरी 3.5 अंक लेकर पहले स्थान पर हैं। उन्होंने भारत के युवा ग्रैंडमास्टर डी गुकेश को हराया। अलीरेजा फिरोजा के तीन अंक हैं और वह दूसरे स्थान पर हैं।
भारत के एक अन्य खिलाड़ी विदित गुजराती ने जॉर्डन वान फॉरीस्ट के साथ बाजी ड्रॉ कराई। गुजराती के चार दौर के बाद दो अंक हैं।वहीं क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने प्रज्ञानानंद की तारीफ की है। उन्होंने X पर लिखा कि, विश्व चैंपियन डिंग लिरेन के खिलाफ इस उल्लेखनीय जीत के लिए @rpraggnachess को बहुत बधाई। 18 साल की छोटी उम्र में आपने न केवल खेल पर अपना दबदबा बनाया, बल्कि भारत के टॉप रेटेड खिलाड़ी भी बन गए हैं।

Big cheers to @rpraggnachess for this remarkable triumph against World Champion, Ding Liren. At the young age of 18, you haven’t just dominated the game but also risen to become India’s top-rated player.Best wishes for your upcoming challenges. Continue to bring glory to India… pic.twitter.com/W7NAqSYnDX— Sachin Tendulkar (@sachin_rt) January 17, 2024