PM Modi ने दिखाई वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी, पुनर्विकास परियोजना का भी किया शिलान्यास

गोरखपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार अपराह्न राज्यपाल श्रीमती आनंदी बेन पटेल व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में गोरखपुर को रफ्तार और विकास की सौगात दी। पीएम ने गोरखपुर से वाया अयोध्या, लखनऊ तक चलने वाली सेमी हाई स्पीड ट्रेन वंदे भारत को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। साथ ही गोरखपुर रेलवे स्टेशन के कायाकल्प वाली पुनर्विकास परियोजना का भी शिलान्यास किया। गोरखपुर रेलवे स्टेशन पर आयोजित समारोह से ही पीएम मोदी ने जोधपुर-अहमदाबाद (साबरमती) वंदे भारत एक्सप्रेस का शुभारंभ किया। गीता प्रेस के शताब्दी वर्ष के समापन समारोह में सम्मिलित होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गोरखपुर रेलवे स्टेशन पहुंचे। प्लेटफार्म नंबर एक पर आने के साथ ही वहां यहां खड़ी वंदे भारत की एक बोगी में गए। उपलब्ध सुविधाओं को देखा। बोगी में पहले से बैठे बच्चों से संवाद किया। क्रू मेंबर्स को शुभकामनाएं दीं। इंजन का जायजा लेने के बाद वह ट्रेन से उतरे। प्रधानमंत्री ने प्लेटफॉर्म नम्बर एक पर रखे गोरखपुर जंक्शन स्टेशन पुनर्विकास परियोजना का मॉडल का अवलोकन करने के बाद रिमोट का बटन दबाकर इस परियोजना का शिलान्यास किया। इसके बाद उन्होंने जोधपुर-अहमदाबाद वंदे भारत का वर्चुअल शुभारंभ किया। तत्पश्चात प्रधानमंत्री ने राज्यपाल आनंदी बेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में गोरखपुर-लखनऊ वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर सांसद रविकिशन शुक्ल, चेयरमैन रेलवे बोर्ड अनिल लोहाटी, पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबंधक चंद्रवीर रमण आदि भी प्रमुख रूप से मौजूद रहे। सुगम यात्रा के साथ पर्यटन को मिलेगा बढ़ावागोरखपुर से वाया अयोध्या, लखनऊ तक वंदे भारत एक्सप्रेस के संचलन से गुरु गोरखनाथ की तपोभूमि, भगवान श्रीराम की जन्मस्थली और प्रदेश की राजधानी तक लोगों को न केवल आवागमन सुगमता मिलेगी बल्कि इससे पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा। यह ट्रेन सांस्कृतिक, औद्योगिक और आर्थिक विकास की गति बढ़ाने में भी सहायक होगी। वंदे भारत एक्सप्रेस गोरखपुर से लखनऊ के बीच चलने वाली सबसे तीव्र गति की ट्रेन होगी और इससे दोनों दूरी तय करने में करीब दो घंटे समय की बचत होगी। अत्याधुनिक सुविधाओं के चलते वंदे भारत की यात्रा हवाई जहाज की यात्रा का एहसास कराएगी। सुविधाओं की बात करें तो पूर्णतः वातानुकूलित इस ट्रेन में खानपान, आरामदायक व 360 डिग्री पर घूमने वाली सीट, टच फ्री शौचालय सुविधा, सेंसरयुक्त दरवाजे, वाईफाई के अलावा दिव्यांगजन के अनुकूल शौचालय व ब्रेल लिपि में सीट नम्बर अंकन की भी व्यवस्था है।मल्टी फंक्शनल कॉम्प्लेक्स वाला बनेगा गोरखपुर रेलवे स्टेशनगोरखपुर जंक्शन रेलवे स्टेशन पुनर्विकास परियोजना स्टेशन को सिटी सेंटर के रूप में विकसित करेगी। अत्याधुनिकता के साथ स्टेशन स्थानीय विरासत प्रतीकों का भी प्रतिनिधि होगा। नए स्टेशन भवन में गोरखनाथ मंदिर और गीता प्रेस की झलक भी दिखेगी। इसमें मल्टी फंक्शनल कॉम्प्लेक्स का प्रावधान किया गया है। पुनर्विकास परियोजना में स्टेशन पर अत्याधुनिक सुविधाओं वाले रूफ प्लाजा, फूड आउटलेट, प्रतीक्षालय, एटीएम और बच्चों के लिए प्लेइंग एरिया का भी इंतजाम होगा। आधुनिक ग्रीन बिल्डिंग के कांसेप्ट में इसका निर्माण होगा और इसमें वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट की भी व्यवस्था की जाएगी।