पितृरेश्वर हनुमान: 11 हजार दीपों से महाआरती, हनुमान चालीसा के 11 हजार पाठ, महाआरती में जुटे दस हजार लोग

जय श्री राम के जयकारों से गूंज उठा पितृ पर्वत, संस्था सृजन के द्वारा मनाया गया रामोत्सव, ग्यारह हजार लोग हुए शामिल