पाकिस्तानी सेना का पलटवार? सोशल मीडिया पर दावा- ईरान में बलूच गुटों के ठिकानों पर किया अटैक

तेहरान/इस्लामाबाद: में हुए ईरानी हमलों के बाद पाकिस्तान ने भी जवाबी कार्रवाई की है। द पाकिस्तान डेली और कुछ दूसरी वेबसाइट ने दावा किया है कि पाक सेना ने ईरान के चाबहार इलाके में गुरुवार तड़के हमले किए हैं। दावा किया गया है कि पाकिस्तान ने बलूच लिबरेशन फ्रंट (बीएलएफ) और बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी (बीएलए) के ठिकानों को निशाना बनाया है। बताया गया है कि आधी रात के बाद पाकिस्तान के फाइटर जेट पहुंचे और हमलों को अंजाम दिया। हालांकि इन हमलों के बारे में ज्यादा जानकारी सामने नहीं आ सकी है।मंगलवार को ईरान के हमले के बाद पाकिस्तान ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान और ईरान के बीच संचार के कई चैनल मौजूद होने के बावजूद इस तरह का काम हुआ है। ये ऐसा वक्त है जब पाकिस्तान और ईरान के नौसैनिक बल दोनों देशों के बीच घनिष्ठ सुरक्षा सहयोग को रेखांकित करने के लिए संयुक्त अभ्यास कर रहे थे। पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने भी ईरानी विदेश मंत्री से ये कहा था कि उनको भी जवाब देने का अधिकार है और वह जवाब दे सकते हैं। जिसके बाद इन हमलों की बात सामने आई है।ईरान ने कहा- हमने ईरानी ग्रुप को निशाना बनायाईरान की सेना ने बलूचिस्तान में मंगलवार को आतंकी संगठन जैश अल अदल के ठिकानों पर बम बरसाए थे। ईरानी सेना ने कहा था कि मिसाइल और ड्रोन हमले करते हुए बलूचिस्तान के कोहे-सब्ज क्षेत्र में आतंकवादी समूह जैश अल-अदल के दो गढ़ों को नष्ट कर दिया। ईरानी फाइटर जेट के जैश अल अदल के ठिकानों को निशाने बनाने के बाद ईरान ने कहा था कि ये ग्रुप ईरान का ही है और उन्होंने पाकिस्तान को निशाना नहीं बनाया है। ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीर-अब्दुल्लाहियन ने कहा कि ईरानी मिसाइलों और ड्रोन के निशाने पर जैश अल-अदल था, जो ईरानी आतंकवादी ग्रुप है।