‘हमारा मंत्र सबका साथ, सबका विकास’, PM Modi बोले, कुछ दलों ने हमेशा डर और झूठ फैलाने की राजनीति की

पीएम नरेंद्र मोदी ने गोवा में विकसित भारत-विकसित गोवा 2047 कार्यक्रम को संबोधित किया। इस दौरान मोदी ने कहा कि गोवा क्षेत्र और आबादी के लिहाज से भले ही छोटा है, लेकिन सामाजिक विविधता के मामले में बहुत बड़ा है। यहां अलग-अलग समाज के लोग, अलग-अलग धर्म को मानने वाले लोग एक साथ रहते हैं, अनेक पीढ़ियों से रहते हैं। उन्होंने कहा कि गोवा के यही लोग जब बार-बार भाजपा की सरकार चुनते हैं तो इसका संदेश पूरे देश में जाता है। इसके साथ ही मोदी ने कहा कि भाजपा का मंत्र सबका साथ, सबका विकास का है। देश में कुछ दलों ने हमेशा डर और झूठ फैलाने की राजनीति की है। लेकिन गोवा ने ऐसे लोगों को करारा जवाब दिया है, बार-बार दिया है। इसे भी पढ़ें: Lal Krishna Advani से मिले JP Nadda और Amit Shah, भारत रत्न मिलने पर दी बधाईप्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि गोवा दुनियाभर के पर्यटकों का पसंदीदा गंतव्य स्थल है। गोवा की प्रगति और उसके नागरिकों की भलाई हमारी प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि गोवा में ईसाई समुदाय और अन्य धर्मों के लोग एक साथ रहते हैं और यह ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ का उत्कृष्ट उदाहरण है। उन्होंने कहा कि गोवा ने कई योजनाओं में संतृप्ति हासिल की है। जब संतृप्ति आती है तो भेदभाव समाप्त हो जाता है। जब संतृप्ति होती है, तो पूरा लाभ प्रत्येक लाभार्थी तक पहुंचता है। जब संतृप्ति होती है तो लोगों को अपना अधिकार पाने के लिए रिश्वत नहीं देनी पड़ती है। इसीलिए मैं बार-बार कहता हूं- संतृप्ति ही सच्ची धर्मनिरपेक्षता है। संतृप्ति ही सच्चा सामाजिक न्याय है। यह संतृप्ति गोवा और देश के लिए मोदी की गारंटी है।मोदी ने कहा कि डबल इंजन सरकार गरीबों के कल्याण के लिए बड़ी योजनाएं चलाने के साथ-साथ बुनियादी ढांचे में रिकॉर्ड निवेश कर रही है। आपने देखा होगा कि देश में कितनी तेजी से सड़कों, रेल और हवाई अड्डों का विस्तार हो रहा है। इस साल के बजट में हमने इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए 11 लाख करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि गोवा के अंदरूनी इलाकों में इको-टूरिज्म को बढ़ावा मिले। इसका फायदा सीधे उन इलाकों में रहने वाले लोगों को होगा। जब गोवा के गांवों में पर्यटक पहुंचेंगे तो वहां रोजगार के ज्यादा अवसर तैयार होंगे। इसे भी पढ़ें: Prajatantra: PM Modi ने BJP के लिए फिक्स किया 370 वाला टारगेट, आखिर कैसे होगा पूरा? पीएम ने कहा कि भारत प्रकृति, संस्कृति और विरासत की दृष्टि से समृद्ध रहा है। दुनिया भर में लोग अलग-अलग देशों में अलग-अलग पर्यटन के लिए जाते हैं। भारत केवल एक वीज़ा पर विविध पर्यटन प्रदान करता है। हालाँकि, 2014 से पहले की सरकार ने पर्यटन की ओर कोई ध्यान नहीं दिया। उनके पास पर्यटन स्थलों, समुद्र तटों और द्वीपों के विकास के लिए कोई दृष्टिकोण नहीं था। उन्होंने कहा कि हम गोवा की फुटबॉल को नहीं भूल सकते। गोवा के फुटबॉल खिलाड़ी और फुटबॉल क्लब दुनिया भर में जाने जाते हैं। फुटबॉल में उनके अमूल्य योगदान के लिए हमारी सरकार ने ब्रह्मानंद संखवलकर को पद्म पुरस्कार से सम्मानित किया। आज हमारी सरकार खेलो इंडिया के माध्यम से गोवा में फुटबॉल और अन्य खेलों को प्रोत्साहित कर रही है।