हर नागरिक का स्वास्थ्य बीमा सुनिश्चित करना हमारा प्रमुख लक्ष्य: राजस्थान मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा

मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने चिकित्सा को जनसेवा का श्रेष्ठ मार्ग बताते हुए शनिवार को कहा कि आयुष्मान भारत योजना के तहत राज्य में प्रत्येक नागरिक का स्वास्थ्य बीमा सुनिश्चित करना ही हमारा प्रमुख लक्ष्य है।
शर्मा ‘राजस्थान इंटरनेशनल सेंटर’ में इलेक्ट्रो होम्योपैथी चिकित्सा परिषद की 13वीं राष्ट्रीय संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे।
शर्मा ने कहा, ‘‘जनसेवा का श्रेष्ठ मार्ग चिकित्सा है।’’
उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रो-होम्योपैथी हर्बल चिकित्सा में औषधीय पौधों के रसों के जरिए उपचार किया जाता है। यह प्रभावी चिकित्सा पद्धति के रूप में उभर रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘राज्य के लिए गौरव की बात है कि राजस्थान इलेक्ट्रोपैथी चिकित्सा पद्धति को मान्यता देने वाला देश में प्रथम राज्य है। सबसे पहले राजस्थान विधानसभा ने राजस्थान इलेक्ट्रोपैथी चिकित्सा पद्धति विधेयक, 2018 पारित किया। इस पद्धति को आगे बढ़ाने और रोगियों को उपचार उपलब्ध कराने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध है।’’
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इस संबंध में विशेषज्ञों की राय लेगी। इस पद्धति से जुड़े चिकित्सकों और संस्थाओं को पूरा सहयोग मिलेगा।
एक बयान के अनुसार शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में नये अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) खोलने के साथ ही आयुष मंत्रालय नयी आयुष पद्धतियों का निरंतर विकास कर रहा है।
मुख्यमंत्री ने योग और स्वस्थ जीवनशैली के माध्यम से मानवता को निरोग और स्वस्थ रहने का संदेश दिया गया है।
शर्मा ने कहा कि पारंपरिक चिकित्सा पद्धतियों से यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज का लक्ष्य हासिल करने में मदद मिल रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आजादी के अमृत काल में देश को स्वास्थ्य के क्षेत्र में अग्रणी बनाने के लिए सामूहिक प्रयास करने होंगे।
उन्होंने कहा कि ‘‘विकसित भारत संकल्प यात्रा’’ के तहत स्वास्थ्य शिविर लगाए जा रहे हैं। राज्य में शिविरों के दौरान 83 लाख से अधिक लोगों की स्वास्थ्य जांच की जा चुकी है। शिविरों में 33 लाख से अधिक आयुष्मान कार्ड के लिए केवाईसी करने के साथ 77 हजार से अधिक आयुष्मान कार्ड जारी किए जा चुके हैं।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का संकल्प मूलभूत चिकित्सा सेवाओं को जन-जन तक पहुंचाना है।
उन्होंने कहा, ‘‘आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रदेश में प्रत्येक नागरिक का स्वास्थ्य बीमा सुनिश्चित करना ही हमारा प्रमुख लक्ष्य है।’’
उपमुख्यमंत्री एवं आयुर्वेद मंत्री डॉ. प्रेमचंद बैरवा ने कहा कि इस पद्धति को आगे बढ़ाने के लिए राज्य सरकार आवश्यक निर्णय लेगी।
इस अवसर पर इलेक्ट्रो होम्योपैथी चिकित्सा परिषद की पुस्तिका का विमोचन और प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया गया। कार्यक्रम में उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ भीउपस्थित रहे।