Delhi में रामनवमी के मौके पर Jahangirpuri में बिना अनुमति निकला जुलूस, सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम, ड्रोन से हो रही निगरानी

देशभर में रामनवमी का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। वहीं दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में रामनवमी के मौके पर शोभा यात्रा का आयोजन किया गया है। इस यात्रा में भारी संख्या में लोग शामिल है, जो बैनर औरझ झंडे लेकर जुलूस निकाल रहे है। ये शोभा यात्रा बिना पुलिस की अनुमति के निकाली जा रही है। इसे लेकर इलाके में ऐहतियात के तौर पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है ताकि इलाके में शांति बनाई रखी जा सके।मामले की संवेदनशीलता को देखते हुए आपात स्थिति से निपटने के लिए ड्रोन से भी इलाके की निगरानी की जा रही है। गौरतलब है कि बीते साल रामनवमी के मौके पर ही बवाल हुआ था। इस बवाल के बाद इस वर्ष पुलिस ने सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए है। पूरे जिले में पुलिस बल की तैनाकी की गई है। पुलिस के मुताबिक पूरे इलाके में शोभा यात्रा या किसी भी तरह के जुलूस को निकालने की अनुमति नहीं दी गई है। पुलिस ने यात्रा को लेकर इस बार सख्त इंतजाम किए है।जानकारी के मुताबिक जहांगीरपुरी के सभी ब्लॉक में बेरिकेडिंग की गई है। इस पूरे इलाके को छावनी में तब्दील किया गया है। वहीं दि्लली पुलिस ने कानून व्यवस्था का हवाला देते हुए जुलूस निकालने की अनुमति नहीं दी है। हालांकि हिंदू संगठनों ने शांति पूर्ण तरीके से जुलूस निकालने की बात कही है, जिसके बाद इलाके में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती है। पुलिस बल की भारी संख्या में तैनाती एक साल पहले की घटना से सबक लेते हुए की गई है। पुलिस इस बार किसी तरह की अनहोनी नहीं होने देना चाहती है।बता दें कि इससे पहले पिछले साल ही दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में शोभा यात्रा के दौरान ही सांप्रदायिक दंगे हुए थे। पथराव, तलवार बाजी के साथ ही यहां जमकर हंगामा हुआ था। इस बवाल के बाद से ही इलाके में तनाव का माहौल बना रहता है और पुलिस इलाके में संवेदनशील तरीके से त्योहारों को मनाने की अनुमति देती है। ऐहतियात के तौर पर ही इस वर्ष भी जुलूस निकालने की अनुमति नहीं दी गई है।गौरतलब है कि हर वर्ष रामनवमी के पावन अवसर पर देश भर के कई राज्यों में हिंदू संगठन शोभा यात्रा और जुलूस निकालते है। इस बार भी जहांगीरपुरी में रामनवमी के मौके पर शोभा यात्रा निकालने की इजाजत हिंदू संगठनों ने दिल्ली पुलिस से मांगी थी।