Mayawati के गिरगिट वाले बयान पर अखिलेश यादव बोले- सपा तो उनको PM बनाने का सपना देख रही थी

उत्तर प्रदेश में राजनीति जमकर हो रही है। हाल में ही बसपा प्रमुख मायावती ने साफ तौर पर कह दिया था कि वह लोकसभा चुनाव में अलेके उतरेंगी। उनकी पार्टी किसी से गठबंधन नहीं करेगी। हालांकि, इस दौरान मायावती ने समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव को लेकर एक बयान दिया था। मायावती ने अखिलेश यादव पर गिरगिट की तरह रंग बदलने का आरोप लगा दिया। अब इसी को लेकर अखिलेश यादव की ओर से पलटवार किया गया है। इसे भी पढ़ें: लंबे इंतजार के बाद दारा सिंह चौहान पर BJP ने फिर दिखाया भरोसा, MLC चुनाव में बनाया उम्मीदवारअखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादियों ने हमेशा सम्मान देने का काम किया है… मुझे वह समय याद है जब समाजवादियों ने संकल्प लिया था कि देश की प्रधानमंत्री उस वर्ग से हो जिन्होंने समाज की तमाम बुराइयों का सामना किया है। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी तो प्रधानमंत्री बनाने का सपना देख रही थी और हमने उसपर काम भी किया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हम PDA यानि आधी आबादी के सम्मान की बात कर रहे हैं और वे रंग बदलने की बात कह रही है, शायद उनपर कोई दबाव है जिसकी वजह से वे ऐसा कह रही हैं। इसे भी पढ़ें: CM Yogi ने UP में किया BJP के चुनाव अभियान का शुभारंभ, नारा दिया- फिर एक बार मोदी सरकार, इस बार भाजपा चार सौ पारमायावती ने कहा कि विपक्ष के गठबंधन ‘‘इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इन्क्लूसिव अलायंस’’ (इंडिया) को लेकर समाजवादी पार्टी के मुखिया ने बसपा के लोगों को गुमराह करने के लिए गिरगिट की तरह रंग बदला है। उन्होंने कहा, हाल ही में विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ को लेकर जिस प्रकार सपा मुखिया (अखिलेश यादव) ने एक सोची-समझी रणनीति के तहत बसपा के लोगों को गुमराह करने के उद्देश्य से, बसपा प्रमुख के प्रति गिरगिट की तरह अपना रंग बदला है तो उससे भी पार्टी के लोगों को सावधान रहना है। मायावती ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों से केन्द्र व राज्यों की सरकारों द्वारा अपनीकमियों पर पर्दा डालने के लिए जिस प्रकार से धर्म व संस्कृति की आड़ में राजनीति की जा रही है उससे देश का संविधान एवं लोकतन्त्र कमजोर होगा।#WATCH बाराबंकी: समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने बसपा प्रमुख मायावती के बयान पर कहा, “…समाजवादियों ने हमेशा सम्मान देने का काम किया है… मुझे वह समय याद है जब समाजवादियों ने संकल्प लिया था कि देश की प्रधानमंत्री उस वर्ग से हो जिन्होंने समाज की तमाम बुराइयों का सामना किया… pic.twitter.com/ZFWK9TZlUj— ANI_HindiNews (@AHindinews) January 16, 2024