टॉप ऑर्डर में जगह नहीं, फिनिशर भी भरपूर, राहुल को टीम से बाहर रखने की असल वजह

नई दिल्ली: टी-20 वर्ल्ड कप से पहले भारतीय क्रिकेट में उस वक्त उथल-पुथल मच गई, जब अफगानिस्तान के खिलाफ घरेलू टी-20 सीरीज के लिए 17 सदस्यीय दल का ऐलान किया गया। रोहित शर्मा और विराट कोहली की 14 महीने बाद टी-20 स्क्वॉड में वापसी हुई। केएल राहुल को एक बार फिर सबसे छोटे फॉर्मेट से बाहर कर दिया गया है। बीसीसीआई ने राहुल को टीम में शामिल न करने के बारे में कोई भी सफाई नहीं दी। टी-20 इंटरनेशनल में राहुल का स्ट्राइक रेट इतना खराब भी नहीं है। क्या मानकर चलना चाहिए कि अफगानिस्तान सीरीज की ही तरह राहुल टी-20 वर्ल्ड कप स्क्वॉड से भी बाहर हो जाएंगे।केएल राहुल ने लगभग सभी टी-20 इंटरनेशनल मैच बतौर ओपनर खेले हैं, लेकिन टीम में शुभमन गिल, यशस्वी जयसवाल, विराट कोहली और रोहित शर्मा जैसे टॉप ऑर्डर के कई बल्लेबाज हैं। चयनकर्ताओं का मानना है कि विकेटकीपर जितेश शर्मा और संजू सैमसन फिनिशर के रूप में बेहतर उपयुक्त हैं, इसलिए राहुल निचले क्रम में भी जगह बनाने से चूक गए। आगामी आईपीएल विश्व कप के लिए दो विकेटकीपर स्लॉट के लिए शूट-आउट के रूप में काम करेगा। टीम में वॉशिंगटन सुंदर और अक्षर पटेल के रूप में दो और ऑलराउंडर भी हैं। इन दोनों के अलावा स्पिन विभाग में कुलदीप यादव और रवि बिश्नोई भी हैं। विकेटकीपर की पोजिशन के लिए संजू सैमसन को जितेश शर्मा से मुकाबला करना होगा। विकेटकीपर शर्मा हाल ही में ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी-20 सीरीज का हिस्सा थे और उन्होंने अपनी जगह बरकरार रखी है, जबकि सैमसन ने अगस्त में आयरलैंड के खिलाफ सीरीज के बाद से भारत के लिए कोई टी-20 मैच नहीं खेला है। इस बात का पता नहीं चल पाया है कि ईशान किशन को सीरीज से क्यों बाहर रखा गया है।